जौनपुरः कालेज प्रशासन के चलते छात्र की मौत से हंगामा, चक्का जाम, तहरीर के आधार पर प्रधानाचार्य और प्रबंधक पर एफआईआर



जौनपुर। जनपद स्थित बंधवा बाजार में एक इंटर कॉलेज में पढ़ने वाले हाईस्कूल के छात्र की शनिवार शाम घर जाने हेतु निकलते समय कालेज के गेट पर ही मौत हो गई। घटना से गुस्साए बच्चे के परिजनों ने शव को सड़क पर रखकर दो घंटे तक जाम कर दिया। इस मामले में छात्र के पिता की तहरीर पर स्कूल प्रबंधक और प्रधानाचार्य के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
सेमरहा गांव निवासी आयुष सरोज (16) पुत्र हीरालाल सरोज कंचन बालिका इंटर कॉलेज बंधवा बाजार में पढ़ता था। शनिवार शाम करीब चार बजे स्कूल बंद होने पर वह साइकिल से घर के लिए निकला जैसे ही वह स्कूल की गेट पर पहुंचा तभी गिर गया। स्कूल प्रशासन ने परिवार के लोगों को सूचना दी। परिजनों के पहुंचने से पहले आयुष की मौत हो गई। परिजन स्कूल प्रशासन के खिलाफ आक्रोशित हो उठे।
परिजनों का आरोप रहा कि आयुष बुखार से पीड़ित था। उसने प्रधानाचार्य से छुट्टी मांगी थी लेकिन घर न जाने देकर उसे स्कूल परिसर में घंटों खड़ा कर दिया गया। इससे उसकी तबीयत और बिगड़ गई। छुट्टी होने पर घर के लिए साइकिल से निकला और स्कूल गेट पर ही गिर गया। जिससे उसकी मौत हो गई। आयुष को अगर समय पर छुट्टी मिल जाती तो ऐसी घटना नहीं होती।
नाराज लोगों ने शाम छह बजे बंधवा बाजार तिराहा पर शव रखकर सड़क जाम कर दिया। प्रदर्शन के कारण मछलीशहर-जंघई मार्ग व बंधवा बाजार-जमालापुर मार्ग पर जाम लग गया। लोगों ने स्कूल प्रशासन व पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की। मौके पर मीरगंज, पंवारा, मुंगराबादशाहपुर, मछलीशहर थाने की फोर्स बुला ली गई है। प्रभारी निरीक्षक उदय प्रताप सिंह ने बताया कि परिजनों द्वारा दी गई तहरीर के आधार पर विधिक कार्यवाई प्रचलित है। 
उधर विद्यालय के प्रबंधक संतोष कुमार जायसवाल ने बताया कि छात्र जब घर के लिए निकल रहा था, तभी गेट के सामने चार पहिया वाहन आ गया और वह घबराकर गिर गया। जिससे उसकी मौत हुई है। सीओ अतर सिंह का कहना है कि मृत छात्र के पिता की तहरीर पर प्रबंधक और प्रधानाचार्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। परिजनों का आरोप है कि छात्र को बीमार होने के बाद भी दो घंटे स्कूल में खड़ा कराया गया। अब घटना को लेकर पुलिसिया जांच शुरू हो गयी है।

Comments

Popular posts from this blog

हाईकोर्ट का शख्त आदेश एसपी जौनपुर एवं एसएचओ झूंसी लापता महिला को कोर्ट में करे हाजिर,जानें क्या है मामला

कांवड़ यात्रियों के लिए मुख्यमंत्री का शख्त आदेश, तो अखिलेश, मायावती का शख्त विरोध, जानें क्या है आदेश

पैतृक सम्पत्तियों को विवाद मुक्त करने के लिए जानिए क्या व्यवस्था कर रही है यूपी सरकार, नहीं लगाने होंगे तहसील के चक्कर