तदर्थ शिक्षको की सेवाएं बचाने के लिए सभी संगठन एक मंच पर आकर करें संघर्ष- रमेश सिंह

जौनपुर। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ सेवारत के प्रदेश अध्यक्ष रमेश सिंह, उपाध्यक्ष डा0 राकेश सिंह, कोषाध्यक्ष डा0 प्रमोद श्रीवास्तव तथा प्रधानाचार्य परिषद के जिलाध्यक्ष डा0 जंगबहादुर सिंह की उपस्थिति में जिलाध्यक्ष तेरस यादव की अध्यक्षता में जनपदीय कार्यकारिणी एवं 1993 से 2000 के बीच नियुक्त तदर्थ शिक्षक साथियों की एक आवश्यक बैठक टी0डी0 इण्टर कालेज में सम्पन्न हुयी। जिसमें ‘‘दिनांक 10 नवम्बर 2023 को प्रमुख सचिव द्वारा निर्गत आदेश जिसके द्वारा तदर्थ शिक्षकों की सेवायें समाप्त करने का निर्णय लिया गया है’’, पर विचार-विमर्श किया गया। बैठक में एक स्वर से वक्ताओं द्वारा इसकी निन्दा की गयी।
बैठक को सम्बोधित करते हुए प्रदेश अध्यक्ष रमेश सिंह ने कहा कि सेवारत् संगठन अपने इन तदर्थ शिक्षकों की सेवायें बचाने के लिए सभी संगठनों से एक मंच पर आकर संघर्ष करने के लिए आमंत्रित करता है और संघर्ष जन प्रतिनिधियों के घेराव सहित विधिक उपचार सभी विकल्पो को खुला रखते हुए अपने इन शिक्षकों की लड़ाई लड़ने के लिए कटिबद्ध है।
प्रान्तीय उपाध्यक्ष डा. राकेश सिंह ने कहा कि आप सभी एकजुट होकर संघर्ष की कीजिए सफलता अवश्य मिलेगी। प्रधानाचार्य परिषद के जिलाध्यक्ष डा. जंगबहादुर सिंह ने कहा कि शिक्षकों के इस लड़ाई में प्रधानाचार्य परिषद उनके साथ खड़ा है। प्रदेश कोषाध्यक्ष डा0 प्रमोद श्रीवास्तव ने कहा कि एक संयुक्त संघर्ष समिति बनायी जाये और एक बैनर तले संघर्ष किया जाय।
मण्डल संयोजक सरोज कुमार सिंह एवं जिलाध्यक्ष तेरस यादव ने सभी शिक्षकों का आह्वाहन किया कि इस विषम परिस्थिति में हम सभी शिक्षक साथी एकजुट होकर हर तरह के संघर्ष के लिए तैयार रहें। बैठक में ही तदर्थ शिक्षकों की समस्याओं के समाधान हेतु संघर्ष समिति का गठन किया गया जिसका संयोजक दिलीप सिंह को बनाया गया। संघर्ष के अगले कार्यक्रम में सोमवार दिनांक 20 नवम्बर 2023 को तदर्थ शिक्षक संघर्ष समिति के तत्वावधान में एक जुलूस तिलकधारी इण्टर कालेज से चलकर जिलाधिकारी कार्यालय में पहुंचेगा तथा मुख्यमंत्री को सम्बोधित एक ज्ञापन जिलाधिकारी महोदय को सौंपा जायेगा।


बैठक को कार्यकारी अध्यक्ष डा0 अतुल कुमार सिंह, उपाध्यक्ष राजेश सिंह, पारस नाथ सिंह, दयाशंकर यादव, बृजेश कुमार सिंह, बद्रीनाथ सिंह, भानु प्रताप सिंह, विनय ओझा सहित कई शिक्षक नेताओं ने सम्बोधित किया। बैठक का सफल संचालन जिलामंत्री ठाकुर प्रसाद तिवारी ने किया।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद