सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य के बयान से जानें कैसे खुद को अलग किया अखिलेश और डिंपल यादव ने

 
सपा की सांसद डिंपल यादव ने कहा कि भगवान राम के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में निमंत्रण आएगा तो हम अयोध्या जाएंगे। अगर निमंत्रण नहीं आता है तो रामलला के दर्शन करने बाद में जाएंगे। मीडिया के सवालों के जवाब में उन्होंने कहा कि सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य धर्म को लेकर जो भी बयान दे रहे हैं, वो उनके अपने विचार हैं। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव इसे पहले ही कह चुके हैं। सपा स्वामी प्रसाद मौर्य के इन विचारों का समर्थन नहीं करती है। 
मालूम हो कि हाल ही में लखनऊ में महा ब्राह्मण समाज पंचायत का सम्मेलन हुआ था। इसमें सपा प्रमुख अखिलेश यादव भी शामिल हुए। इसमें अखिलेश यादव के सामने स्वामी प्रसाद मौर्या के बयानों पर सवाल उठे थे। इस पर अखिलेश ने उनके बयानों को निजी बताते हुए उनसे पूरी तरह से पल्ला झाड़ने की कोशिश की थी। साथ ही इस बात का भी इशारा किया था कि नेता इस तरह के बयानों से बचे। 

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद