दिल और अस्थमा के मरीज हो जाए सावधान सुबह आठ बजे के पहले टहलने से करे परहेज जानें कारण


अगर आप दिल के मरीज हैं और अस्थमा की भी परेशानी है तो सावधान रहें। सर्दी और कोहरा का यह मौसम दोनों ही तरह के रोगियों के लिए ठीक नहीं है। विशेषज्ञों की सलाह है हार्ट और सांस के मरीज ठंड से बचाव करें। सुबह आठ बजे से पहले सैर के लिए कतई न निकलें।
कम से कम तीन लेयर में गर्म कपड़े पहनें। अपने डाक्टर के संपर्क में रहें। सुबह टहलने से बचें, बीपी की नियमित दवा लेंलोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान में कार्डियोलाजी विभाग के अध्यक्ष प्रो. भुवन चंद्र तिवारी ने बताया कि सुबह टहलना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है, लेकिन सर्दी के मौसम में खासकर कोहरा होने पर बाहर निकलने से बचें।
यह ह्रदय रोगियों के लिए घातक हो सकता है। ठंड में सुबह के समय शरीर में कैटाकोलामीन नामक तरल पदार्थ बढ़ जाता है। ऐसे में हार्ट अटैक की संभावना अधिक होती है। इसलिए सुबह आठ बजे से पहले टहलने से परहेज करें। रोजाना करीब 30 मिनट धूप में बैठें। अगर हाई बीपी के मरीज हैं तो नियमित दवा लें।
समय-समय पर अपने डाक्टर के संपर्क में रहें। प्रो. तिवारी के मुताबिक, अगर किसी जरूरी कम से बाहर निकल रहे हैं तो ठंड से बचाव के सभी इंतजाम करें। ऐसे मौसम में खानपान का भी विशेष ध्यान रखना चाहिए। हरी सब्जियों के साथ फल का सेवन करें। बाजार की खुली वस्तुओं से दूरी बनाएं। धूमपान न करें। पिछले एक सप्ताह से ओपीडी में भी दिल के मरीजों की संख्या में तेज बढ़ोत्तरी हुई है।
सांस रोग केजीएमयू में रेस्पिरेटरी मेडिसिन विभाग के प्रो.आरएएस कुशवाहा का कथन है कि ठंड का मौसम शुरू होते ही सांस रोगियों को अलर्ट हो जाना चाहिए। खासकर, कोहरा ऐसे रोगियों के लिए घातक हो सकता है। इसलिए सुबह-शाम हाथ पैर की सिकाई करें। गर्मी पानी पीएं और गुनगुने पानी से ही नहाएं।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद