अशोका इंस्टीट्यूट में जनसंपर्क और छवि निर्माण पर कार्यशाला जागृति संपन्न

                                                                  हमसे पहले पहुंचती है हमारी छवि और  हमारा प्रभाव
पहाड़ियां स्थित अशोका इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट में जनसंपर्क और छवि निर्माण पर विशेषज्ञों की एक कार्यशाला आयोजित हुई ।                                                                  कार्यशाला जागृति का उद्घाटन पीएसआरआई के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नरेंद्र मेहता ने किया इस दौरान प्रेरक वक्त व लेखक निर्मला जोशी,संस्था के अध्यक्ष अनिल के जाजोदिया, सचिव प्रदीप उपाध्याय और अशोका इंस्टीट्यूट की डायरेक्टर प्रोफेसर सारिका श्रीवास्तव उपस्थित रहीं।                                                        सोच समझ और व्यवहार प्रस्तुति से बनती बिगड़ती है छवियां युवा पीढ़ी में जनसंपर्क के महत्व का प्रसार करने के उद्देश्य से पब्लिक रिलेशंस सोसाइटी ऑफ इंडिया वाराणसी चैप्टर द्वारा अशोका इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट के सहयोग से सेमिनार हाल में जागृति संगोष्ठी व कार्यशाला का आयोजन किया गया ,जिसमें कॉलेज के छात्र-छात्राओं अध्यापकों व अधिकारियों के साथ जनसंपर्क क्षेत्र सहयोगियों ने भाग लिया इस अवसर पर प्रभाव की रचना बेहतर जनसंपर्क हेतु छवि निर्माण विषय पर संगोष्ठी में गणमान्य वक्ताओं के साथ-साथ छात्र-छात्राओं द्वारा जनसंपर्क छवि निर्माण और उसके विविध पक्षों पर विचार प्रस्तुत किए गए । कार्यक्रम के प्रमुख वक्ता व लेखक ,प्रेरक वक्त निर्मला जोशी और प्रशिक्षक व प्रबंधन सलाहकार अनिल के जाजोदिया रहे । कार्यशाला के शुरू में जन-जन से संपर्क बढ़ाने वाले हम आशाओं की किरण जगाने वाले हम गीत प्रस्तुत कर किया गया । पब्लिक रिलेशंस सोसाइटी ऑफ इंडिया वाराणसी चैप्टर के अध्यक्ष अनिल के जाजोदिया ने बताया जनसंपर्क न केवल समूह या संस्थान बल्कि हर व्यक्ति के लिए बड़ा महत्वपूर्ण होता है हमारे व्यवहार कार्य और संपर्क से ही हमारी छवि का निर्माण होता है और लोग उसी के अनुरूप हमारा आकलन करते हैं हमसे पहले हमारी सूचना छवि और हमारा प्रभाव पहुंचकर आपसी संपर्क और संबंधों की दिशा का आधार बना देते हैं ।                                                कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रमुख वक्ता निर्मला जोशी ने कहा आज के दौर में छवि प्रबंधन एक बड़ी कला है और व्यक्ति को इस सुविधा का उपयोग कर अपने लक्ष्य की साधना में ही प्रमुखता से करना चाहिए हम जैसा दिखना चाहते हैं वैसे ही बने को मूल मंत्र बनाकर हम अपनी पहचान को सफल कर सकते हैं विशिष्ट अतिथि पीआरइसआई के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नरेंद्र मेहता ने जनसंपर्क समिति का परिचय करते हुए जनसंपर्क क्षेत्र की चुनौतियों और संभावनाओं पर प्रकाश डाला उन्होंने बताया कि तेजी से बदलती डिजिटल दुनिया में रचनात्मकता के लिए अपार संभावनाएं हैं कार्यक्रम को कॉलेज की निर्देशिका प्रोफेसर सारिका श्रीवास्तव ने भी संबोधित किया और कहा कि हमें अपनी योग्यता कौशल और विशेषताओं को सामने रखना होगा आज के दौर में संबंधों को तय करने नौकरी साझेदारी और गठबंधन आदि में हमारी छवि हमारी प्रस्तुति और हमारे सोशल प्रोफाइल का आकलन महत्वपूर्ण हो गया है युवा ऊर्जा के सही उपयोग से बेहतर भविष्य की नीव डाली जा सकती है ।            कार्यक्रम में बेहतर सहभागिता और उत्कृष्ट प्रस्तुति के लिए अध्यापकों मीडिया के छायाकारों को अंग वस्त्र पहनाकर सम्मानित किया गया साथ ही अशोका इंस्टीट्यूट के सभी छात्र-छात्राओं प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र प्रदान किए गए कार्यक्रम का संयोजन अशोका इंस्टीट्यूट की असिस्टेंट प्रो शर्मिला सिंह पीआरएसआई से मनीष श्रीवास्तव हर्ष अग्रवाल एवं धन्यवाद प्रकाश सोसाइटी के सचिव प्रदीप कुमार उपाध्याय द्वारा किया गया इस अवसर पर बीएचयू से हर्ष अग्रवाल श्वेता त्रिपाठी उपजा के महामंत्री प्रदीप कुमार श्रीवास्तव आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे ।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद