बदमाशों ने पूर्वांचल विश्वविद्यालय में फार्मेसी के विभागाध्यक्ष पर हमला कर किया घायल, साजिश में एक शिक्षक का नाम चर्चा में



जौनपुर। पूर्वांचल विश्वविद्यालय जाते समय फार्मेसी के विभागाध्यक्ष पर आज सोमवार को सुबह नकाबपोश बदमाशों ने हमला कर दिया, इस घटना में विश्वविद्यालय कर्मी बुरी तरह जख्मी हो गए आनन फानन में उन्हें जिला अस्पताल भेजा गया,डॉक्टरों ने उनकी हालत नाजुक देखते हुए वाराणसी ट्रामा सेंटर भेज दिया। घटना थाना सरायख्वाजा क्षेत्र स्थित मेडिकल कालेज के पास जौनपुर शाहगंज मार्ग पर हुई है। घायल टीचर ने बताया कि हमलावर मुँह बांधे हुए जिससे मैं उन्हें पहचान नहीं सका लेकिन बदमाश विश्वविद्यालय के दो शिक्षकों का नाम ले रहे थे। 
बतादे शहर कोतवाली थाना क्षेत्र के परमानतपुर मोहल्ले के निवासी नृपेंद्र सिंह वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के फार्मेसी विभाग में विभागाध्यक्ष है आज वे बाइक से सुबह विश्वविद्यालय जा रहे थे रास्ते मे मेडिकल कॉलेज के पास अज्ञात बदमाशों ने उनको रोक कर उनपर हमला कर दिया। इस वारदात में उनके सिर पर गंभीर चोट आई है। घायलावस्था में उन्हें जिला अस्पताल ले जाया गया जहां पर डॉक्टरों ने उनकी हालत नाजुक देखते हुए वाराणसी ट्रामा सेंटर भेज दिया गया। 
चोटिल शिक्षक ने मीडिया को बताया कि मैं पूरी ईमानदारी से अपना कार्य कर रहा हूं जिसके कारण कई शिक्षक मुझसे खफा रहते हैं मैं विश्वविद्यालय जा रहा था रास्ते मे मुँह बांधे कई बदमाशों ने मेरे ऊपर हमला कर दिया। मारने वाले विश्वविद्यालय के प्रोफेसर डॉ मानस पांडेय और डॉ विनय वर्मा का नाम ले रहे थे तथा वे लोग कह रहे थे कि मानस पांडेय  कुलपति के करीब रहते थे तो विश्वविद्यालय में हम लोगों का काम आसानी से हो जाता था। इस संदर्भ में मानस पांडेय से बातचीत करने का प्रयास किया गया लेकिन उनका मोबाइल नहीं उठा इसीलिए मानस पांडेय का वर्जन स्पष्ट नही हो सका कि घायल शिक्षक के आरोप में कितनी सच्चाई है। सच तो अब पुलिस की विवेचना के बाद ही सामने आ सकेगा जब हमलावर गिरफ्तार होगे।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?