बहसी दरिन्दों नाबालिग बालिका के साथ गैंगरेप कर लूट लिए आबरू,अब पहुंचे सलाखों के पीछे




प्रदेश की सरकार बेटियों के सुरक्षा और सम्मान के दावों को अपराधी और बहसी दरिन्दे झूठे एवं  खोखला साबित करते नजर आ रहे है। ऐसे में सवाल उठता है कि सरकार क्यों और किस लिए फर्जी दावे कर रही है। प्रदेश में प्रतिदिन किसी न किसी बेटी की आबरू लूटी जा रही है। गैंगरेप हो रहा है। सरकार की पुलिस आखिर शक्ति क्यों बरत रही है। कानून का डर ऐसे अपराधियों पर क्यों नहीं है। 
ताजा मामला जनपद बस्ती जिले के छावनी थाना क्षेत्र का है यहाँ पर 15 वर्षीय दलित किशोरी के साथ गैंगरेप की घटना प्रकाश में आयी है। हलांकि घटना के पश्चात मामला थाने पर पहुंचा तो पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है साथ ही सभी आरोपियों के खिलाफ एससी-एसटी, दुष्कर्म और पास्को एक्ट में मुकदमा दर्ज किया गया है।
मिली खबर के अनुसार दलित किशोरी सुबह के समय जब शौच के लिए खेत में गई तो घात लगा कर बैठे तीनों आरोपियों ने किशोरी को जबरिया  पकड़ कर सरसो के खेत में घसीट ले गए और बारी बारी से उसके साथ जबरन गैंगरेप की वारदात को अंजाम दे कर फरार हो गए। पीड़िता ने जब घर वालो को अपनी आपबीती घटना  बताई तो परिवार के लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दिया पुलिस ने पीड़िता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया और आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस टीम गठित की गई। एक्शन में आयी पुलिस ने छावनी थाना क्षेत्र से तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इसके बाद तीनों को अपराध के तहत जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा दिया है। इस घटना से इलाके में जहां जनाक्रोश आम जनता के बीच है वहीं पर बेटियां दहशत के साये में जीने को मजबूर हो गयी है ।हर एक माता पिता अपने बेटी की आबरू सुरक्षा को लेकर चिंतित हो गया है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

मुम्बई से आकर बदलापुर थाने में बैठी प्रेमिका, पुलिस को प्रेमी से मिलाने की दी तहरीर, पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप

आइए जानते है कहां पर बारिश के दौरान आकाश से गिरी मछलियां, ग्रामीण रहे भौचक