प्रदेश के टाप टेन अपराधियों की सूची में शामिल जानें कौन है वंदना सिंह



प्रदेश के टॉप-10 अपराधियों की सूची में शामिल ध्रुव कुमार सिंह उर्फ कुंटू सिंह की पत्नी वंदना सिंह व सहयोगी शिवप्रकाश पर 25-25 हजार का इनाम घोषित किया गया है। कुख्यात कुंटू सिंह डी-11 गैंग का लीडर है। वह सुर्खियों में तब आया, जब पूर्व विधायक सर्वेश सिंह सीपू की हत्या हुई।
हत्याकांड के बाद से ही कुंटू जेल की सलाखों के पीछे है। उसके जेल में रहते हुए भी रंगदारी, हत्या, लूट व छिनैती जैसी घटनाएं उसके गैंग के लोग लगातार अंजाम दे रहे थे। जनवरी माह में ही लखनऊ में हुए मऊ जिले के मोहम्मदाबाद ब्लॉक के पूर्व ज्येष्ठ प्रमुख अजीत सिंह की हत्या में भी कुख्यात कुंटू का नाम सामने आया था। इसके बाद ही कुंटू को दूसरे जनपद की जेल में स्थानांतरित कर दिया गया।
पुलिस ने कुंटू की कई करोड़ की प्रापर्टी सीज की और पॉलिटेक्निक कॉलेज व महाविद्यालय को ध्वस्त कराया। इन विद्यालयों के कागजातों में मुखिया कुंटू की पत्नी व उसके सहयोगी शिवप्रकाश यादव रहे। जालसाजी कर मान्यता लेने के मामले में इन दोनों के खिलाफ आजमगढ़ जिले के जीयनपुर कोतवाली में मुकदमा दर्ज हुआ। इसके बाद से ही वंदना सिंह व शिवप्रकाश यादव फरार चल रहे हैं।
लंबे समय से फरार चलने के कारण आजमगढ़ एसपी सुधीर कुमार सिंह ने रविवार को इन दोनों पर 25-25 हजार का इनाम घोषित कर दिया। एसपी सुधीर कुमार सिंह ने बताया कि दोनों की गिरफ्तारी को लेकर दबिश की कवायद चल रही है। यदि गिरफ्तारी नहीं होती है तो कोर्ट से अनुमति लेकर इनके खिलाफ कुर्की आदि की भी कार्रवाई की जाएगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर में बसपा को जोर का झटका करीने से, डॉ जेपी सिंह ने सुभासपा किया ज्वाइन

यूपी: भाजपा ने जारी किया पहले और दूसरे चरण में चुनाव के प्रत्याशियों की सूची,योगी जी लड़ेंगे गोरखपुर से ,देखे सूची

मल्हनी विधायक लकी यादव एवं उनके एक दर्जन समर्थको पर बक्शा थाने में दर्ज हुआ मुकदमा