पहले प्यार फिर शादी, रास्ते छोड़ दूल्हा फरार जानें क्या है पूरा मामला


पहले प्रेम की, फिर प्रेमी-प्रमिका के परिजनों की सहमति से रचाई गई शादी। जब दुल्हन की विदाई की गयी, तब यह कहकर दुल्हन को बीच रास्ते में गाड़ी से दूल्हे व उसके परिजनों ने उतार दिया गया कि, जब तक दहेज में दो लाख रुपये और बाइक नहीं मिल जाती, तब तक तुम्हें विदा कर नहीं ले जायेंगे। इससे सहमी दुल्हन घर पहुंचकर पिता को आपबीती बतायी, जिस पर पिता ने स्थानीय थाना में दूल्हे समेत परिजनों के खिलाफ तहरीर दी। जहां पुलिस मामले की जांच कर रही है। 
या मामला गाजीपुर के चक अहमद गांव (गोंडी) का है। गांव निवासी रामअवतार राजभर की पुत्री 20 वर्षीय रीता का स्वजातीय 23 वर्षीय सुनील कुमार से पिछले एक वर्ष से प्रेम-प्रसंग चल रहा था। इसी बीच दोनों को तीन दिन पूर्व इसी गांव के सिवान में ग्रामीणों ने आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ लिया। जब मामला आगे बढ़ा, तो दोनों गांवों के प्रधानों व ग्रामीणों के पंचायत के बाद स्वजातीय युगल की गत तीन जून को परिवारों की सहमति से पंचों की मौजूदगी में शिव मंदिर में हंसी-खुशी के साथ शादी सम्पन्न हो गयी। दोनों पक्षों ने खान-पान के बाद लड़के पक्ष के लोग लड़की को बिदाकर अपने गांव निकले गये।
इसी बीच रास्ते में अचानक गाड़ी रोक दुल्हन को रास्ते में छोड़कर लड़के वाले यह कहकर चलते बने कि जब तक दो लाख रुपये नगर व बाइक नहीं मिलेगी, तब तक तुम्हारी विदाई नहीं होगी। यह सुनकर लड़की के पैरों तले जमीन खिसक गयी। वह किसी तरह वहां से घर आकर अपने पिता को पूरी बात बतायी। इस मामले में लड़की के पिता ने स्थानीय थाना तहरीर देकर लड़के वालों पर कार्रवाई की मांग की है। इस संबंध में थानाध्यक्ष शैलेश कुमार मिश्रा ने बताया कि इस लड़की वालों की तरफ से तहरीर मिली है। मामले की जांच कर कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा ने पहले फेज के चुनाव हेतु प्रत्याशियों की जारी की सूची इन लगाया दांव

थाने में खड़ी गाड़ियां दीवान ने कबाड़ी को बेचीं, एसपी ने किया निलंबित, कबाड़ी भी गिरफ्तार

आइए जानते है मुन्ना बजरंगी के भाई को पुलिस ने क्यों किया गिरफ्तार