आइये जानते है शिक्षक भर्ती में आरक्षण के मुद्दे को लेकर आन्दोलन कारियों के बाबत अपर मुख्य सचिव का क्या रहा जबाब



 उत्तर प्रदेश में 6900 हजार शिक्षक भर्ती के आरक्षण पीड़ितों ने अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा दीपक कुमार से मुलाकात की। अभ्यर्थियों ने मुख्य सचिव के सामने अपनी समस्या बताई और कहा कि ओबीसी को भर्ती में 27 परसेंट आरक्षण और एससी वर्ग 21 परसेंट का आरक्षण नहीं मिला है। वहीं आरक्षण पीड़ितों का कहना था कि हमने अपर मुख्य सचिव बेसिक शिक्षा दीपक कुमार से बात की और उन्हें पूरे मामले की जानकारी दी। उनको पूरे मामले की जानकारी नहीं थी तो हम लोगों ने उन्हें हाई कोर्ट सारे आदेश की कॉपी दिखाई। जिसके बाद उन्होंने हम लोगों को आश्वासन दिया है कि उनकी समस्या का जल्द ही हल किया जाएगा और किसी का भी हक़ नहीं मारा जाएगा। 
आरक्षण पीड़ित अभ्यर्थी काफी समय लखनऊ में प्रदर्शन कर रहे हैं। दरसअल लखनऊ में 69000 शिक्षक भर्ती आरक्षण पीड़ित OBC/SC अभ्यर्थी राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग की रिपोर्ट को लागू करवाने के लिए काफी समय से प्रदर्शन कर रहे हैं। इनकी मांग है कि ओबीसी अभ्यर्थियों को भर्ती में 27% आरक्षण नहीं मिला है। भर्ती में ओबीसी वर्ग को मिला है सिर्फ 3.86% आरक्षण मिला है। वहीं एससी वर्ग के अभ्यर्थियों को 21% आरक्षण नहीं मिला है भर्ती में एससी वर्ग को मिला है सिर्फ 16.6% आरक्षण दिया गया है। राष्ट्रीय पिछड़ा वर्ग आयोग ने 29 अप्रैल को जारी अपनी अंतरिम रिपोर्ट में माना कि 5844 ओबीसी वर्ग के अभ्यर्थियों की ओवरलैपिंग रोकी गई। जिसके बाद से 22 जून से लगातार आरक्षण पीड़ित अभ्यर्थी लगातार धरना प्रदर्शन कर रहे थे। इस मामले को लेकर उन्होंने बेसिक शिक्षा मंत्री के आवास पर भी प्रदर्शन कर चुके है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

आज से लगातार 08 दिनों तक बैंक रहेंगे बन्द जानें इस माह में कितने दिवस होगे काम काज

यूपी के गांव में जमीनी विवाद खत्म करने के सरकार ने बनायी यह योजना,नहीं होगी मुकदमें की नौबत