एनटी करप्शन टीम की कार्यवाई घूस लेते रंगेहाथ लेखपाल हुआ गिरफ्तार



भ्रष्टाचार निवारण दल की कार्रवाई से मची अफरातफरी पैमाइश कर आख्या के लिए मांगा था 10 हजार रुपये

 सरकार भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए कितनी भी कोशिश कर ले, लेकिन भ्रष्ट लोग अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहे। भ्रष्टाचार निवारण दल ने लगभग पौने तीन बजे मेंहनगर थाना क्षेत्र के गौतम बाजार से लेखपाल मिथिलेश मौर्य को घूस लेते रंगेहाथ गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में मेंहनगर तहसील क्षेत्र के गोपालपुर निवासी श्रीराम चौहान ने शिकायत दर्ज कराई थी।
दरअसल श्रीराम चौहान का एक मुकदमा एडीएम (एफआर) के यहां चल रहा है। उसमें जमीन का स्थलीय निरीक्षण के बाद जांच आख्या प्रस्तुत करनी थी। श्रीराम ने लेखपाल से संपर्क किया तो उसने 10 हजार रुपये की डिमांड कर डाली। आरोप है कि श्रीराम ने अपनी मजबूरी बताई तो लेखपाल ने कहा कि दूसरों से इसी काम का 20 हजार लेता हूं। जब श्रीराम को कोई रास्ता नहीं सूझा तो उन्होंने सामाजिक संगठन प्रयास के लोगों से संपर्क किया।
संगठन के अध्यक्ष रणजीत सिंह ने मदद को ठानी तो श्रीराम का संपर्क एंटी करप्शन टीम से करा दिया। उसके बाद योजना के मुताबिक 10 रुपये की व्यवस्था कर श्रीराम ने लेखपाल से संपर्क किया तो बताया कि सिंहपुर में हूं। घंटे भर बाद गौतमनगर पहुंचूंगा। लगभग पौने तीन बजे लेखपाल ने बाइक से गौतमनगर पहुंचकर श्रीराम से संपर्क किया। बाइक पर साथ रहे व्यक्ति को दूर रहने को कहा। यहां श्रीराम ने रुपये दिया तो गिनने लगा, लेकिन तब तक आसपास खड़े भ्रष्टाचार निवारण दल के सदस्यों ने उसे दबोच लिया। उसके बाद लेखपाल को सिधारी थाने लाकर विधिक कार्रवाई की गई। टीम में प्रभारी निरीक्षक रामधारी मिश्र, चंद्रभान आदि शामिल थे। लेखपाल अब सलाखों के पीछे पहुंच गये है।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?