महिला दरोगा को घूस लेने का वीडियो वायरल होते ही एसपी ने किया लाइन हाजिर,जानें क्या है पूरा मामला



प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भ्रष्टचार को रोकने के लिए तमाम उपाय कर रहे हैं लेकिन भ्रष्टाचार है कि खत्म होने का नाम ही नहीं ले  रहा है। पुलिस विभाग तो इस कार्य में नम्बर वन है क्योंकि कानून और डन्डा दोनों उसके पास है  जी हां जनपद रायबरेली की एक महिला थानाध्यक्ष को खुले आम घूस लेने का वीडियो वायरल होने पर उसे लाइन हाजिर कर दिया गया है। 
डिप्टी सीएम डॉ. दिनेश शर्मा के प्रभार वाले जिले रायबरेली में भ्रष्टाचार चरम पर है। ताबड़तोड़ घूसखोरी के वायरल हो रहे वीडियो ने यहां योगी सरकार की जीरो टॉलरेंस नीति को मुंह चिढ़ाना शुरु कर दिया है। ब्लॉक में एकाउंटेंट,  तहसील  में लेखपाल के बाद आज महिला दरोगा का घूस लेते वीडियो वायरल होने से हड़कंप मच गया है। फिलहाल इस मामले में एसपी ने महिला दरोगा को लाइन में भेजकर सीओ सिटी को जांच सौंप दी है। 
बता दें कि महिला दरोगा उमा अग्रवाल की लूट से जिले में हर कोई परेशान था। उन्हें राजनैतिक संरक्षण भी प्राप्त है। ऐसे में भ्रष्टाचार के काकस में लिप्त महिला दरोगा पर कोई कार्रवाई भी नही कर पा रहा था। लेकिन कहा गया है कि पाप का घड़ा भर कर छलकता जरूर है। महिला दरोगा के साथ ऐसा ही हुआ। उनके द्वारा कई मामलों में लिखा पढ़ी और कागजात तैयार करने के नाम पर खुलेआम पैसे लिए गए। और इसी समय पीड़ितों ने उन्हें सबक सिखाने की ठान लिया। जब वो सभी पैसे दे रहे थे तो उक्त घटनाक्रम को उन सबके द्वारा मोबाइल कैमरे में कैद कर लिया गया। एक महिला सिपाही को पास खड़ा करके दरोगा उमा अग्रवाल पैसे की वसूली कर रही हैं। फिलवक्त दरोगा उमा अग्रवाल भदखोर थाना क्षेत्र के मुंशीगगंज चौकी पर तैनात हैं। हालांकि अब जब वीडियो वायरल हुआ तो एसपी रायबरेली श्लोक कुमार ने लाइन में भेजकर जांच सीओ सिटी को सौंपी है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

मुम्बई से आकर बदलापुर थाने में बैठी प्रेमिका, पुलिस को प्रेमी से मिलाने की दी तहरीर, पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप

आइए जानते है कहां पर बारिश के दौरान आकाश से गिरी मछलियां, ग्रामीण रहे भौचक