कनाडा से तस्करी कर लायी गयी 1.36 करोड़ रुपए की मटर पुलिस ने किया बरामद जानें क्या है पूरी घटना


डायरेक्ट्रेट ऑफ रेवन्यू इंटेलिजेंस (डीआरआई) गोरखपुर और लखनऊ की टीम ने देवरिया में एक गोदाम से तस्करी की 1.36 करोड़ कीमत की हरी मटर पकड़ी है। कनाडा की यह मटर नेपाल के रास्ते भारत लाई गई। देवरिया स्थित गोदाम में कनाडा की बोरी से निकाल कर मटर को लोकल पैकिंग की जाती थी। इसके बाद इसे दक्षिण भारत के राज्यों में खपाया जाता था। गोदाम में कार्यरत मजदूरों और ड्राइवरों से पूछताछ में डीआरआई को बड़े नेटवर्क का सुराग हाथ लगा है। जल्द ही मामले में गिरफ्तारी हो सकती है।
नेपाल के रास्ते ही लाई गई कनाडा की 23 मीट्रिक टन हरी मटर को डीआरआई गोरखपुर ने हाटा-कप्तानगंज के बीच एक अक्तूबर को पकड़ा था। इसके बाद पूरे खेल की जानकारी हुई थी। तभी से डीआरआई गोरखपुर इस गिरोह के पीछे लगी है। पिछले दिनों डीआरआई को देवरिया के एक गोदाम से तस्करी होने की सूचना मिली थी।
सूचना के बाद टीम ने लखनऊ से मदद मांगी थी। लखनऊ से टीम आने के बाद 12 अक्तूबर को टीम ने छापा मारा। इस दौरान गोदाम में 46 मीट्रिक टन हरी मटर मिली। जिसे मशीन से छोटे-छोटे पैकेज में भरा जा रहा था। मटर, मशीन के साथ ही परिसर में खड़ी चार पिकअप, एक डीसीएम को टीम ने जब्त कर लिया। टीम के आने की सूचना पर कुछ लोग भाग खड़े हुए जबकि पांच ड्राइवर व 15 मजदूर मिले। जिनसे टीम ने पूछताछ की।
पूछताछ में पता चला कि नेपाल के रास्ते से कनाडा की हरी मटर को लाया जाता है। गोदाम में मटर को नए पैकेट में डालकर दक्षिण भारत भेजा जाता है। हालांकि नए पैकेज पर कुछ नहीं लिखा है। तस्करी के इस खेल में देवरिया के अलावा, महराजगंज, वाराणसी सहित कई जिलों के लोग शामिल हैं। डीआरआई टीम ने अब नेटवर्क से जुड़े सभी लोगों की तलाश शुरू कर दी है। जल्द ही इस मामले में बड़ा खुलासा हो सकता है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

टीईटी साल्वर गिरोह का हुआ भन्डाफोड़, दो गिरफ्तार,एक जौनपुर दूसरा सोनभद्र का निकला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम

प्रेम प्रपंच में युवकों की जमकर पिटाई, प्रेमी की इलाज के दौरान मौत तो दूसरा साथी गंभीर