नियुक्ति के 28 दिन बाद कार्यभार ग्रहण करने आये बीएचयू की कुलपति आखिर कार्यभार क्यों ग्रहण नहीं किया ?


काशी हिंदू विश्वविद्यालय (बीएचयू) के नवनियुक्त कुलपति प्रो. सुधीर कुमार जैन विश्वविद्यालय में छह दिन रहे और बिना कार्यभार ग्रहण किए 15 दिसम्बर की रात बाबतपुर एयरपोर्ट से गांधीनगर लौट गए। इन छह दिनों में उन्होंने महिला महाविद्यालय के प्राचार्य से मुलाकात की। परिसर को दो हॉस्टलों में भी गए थे।
सेंट्रल डिस्कवरी सेंटर, सेंट्रल हिंदू स्कूल का दौरा करने के बाद एलडी गेस्ट हाउस में संकाय प्रमुख, निदेशकों, अधिकारियों, शिक्षकों संग बैठक भी की। केंद्रीय कार्यालय में इंस्टीट्यूट आफ एमिनेंस के सदस्यों के साथ भी बैठक की। वह काशी के घाटों पर भी गए।
बाबतपुर एयरपोर्ट से बुधवार रात 10 बजे की फ्लाइट से वापस चले गए। विश्वविद्यालय के प्रभारी वीसी के साथ ही अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे। अब प्रो. सुधीर जैन कार्यभार ग्रहण करने कब आएंगे, इसको लेकर तरह-तरह की चर्चाएं हो रही हैं। 
आईआईटी गांधीनगर के निदेशक प्रो. सुधीर कुमार जैन को केन्द्रीय शिक्षा मंत्रालय ने 13 नवंबर को बीएचयू का कुलपति नियुक्त किया था। इसके बाद से लोग उनके कार्यभार ग्रहण करने का इंतजार कर रहे थे। नियुक्ति के 28 दिन बाद वह विश्वविद्यालय पहुंचे थे और 06 दिन यहां विश्वविद्यालय में प्रवास करने के बाद बिना कार्यभार ग्रहण किये ही उनका चले जाना तमाम सवाले को जनम दे गया है। यह भी अटकलें है कि वह कार्यभार ग्रहण करने पुनः आयेंगे भी या नही ? रहस्य बना हुआ है। कार्यभार ग्रहण न करने के कारण की तलाश अब विश्वविद्यालय के जिम्मेदार लोग कर रहे है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जानिए मुर्गा काटने के दुकान से कैसे मिला गुड्डू की लाश,पुलिस कर रही है जांच

बिजली विभाग बड़े बकायेदारो से बिल की वसूली कराये - डीएम जौनपुर

मंत्री गिरीश चन्द यादव का अखिलेश यादव पर जबरदस्त पलटवार,दे दिया केन्द्रीय मंत्री बनाने का आफर