आखिर जिला जेल में बंद महिला कैदी बाथरूम में फांसी के फन्दे पर क्यों झूली,सुबह लाश मिली


दहेज हत्या के केस में करीब सात महीने से मऊ जिला जेल में बंद महिला कैदी ने फांसी लगाकर जान दे दी। गुरुवार रात महिला कैदी बाथरूम गई थी। यहां से काफी देर तक बाहर नहीं आने पर सुरक्षाकर्मियों ने जाकर देखा तो वह फंदे पर लटकी मिली। जेल प्रशासन के अनुसार महिला ने अपनी ही साड़ी से फंदा बनाकर जान दी है। महिला कैदी की आत्महत्या की जानकारी होने पर जेल अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए। शहर कोतवाली क्षेत्र की निवासी मीरा (45) पत्नी जितेंद्र दहेज हत्या के एक मुकदमे में 6 जून 2021 से मऊ जिला जेल में विचाराधीन कैदी के रूप में बंद थी।
जेल सूत्रों के मुताबिक, मीरा गुरुवार रात रोजाना की तरह भोजन करने के बाद अपनी बैरक में सोने चली गई। शुक्रवार को महिला बैरक के बाथरूम में उसका शव साड़ी के फंदे पर लटकता हुआ मिला। जेल अधिकारियों ने घटना की सूचना पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों को दी।
सीओ सिटी धनंजय मिश्रा और एसडीएम जयप्रकाश यादव जिला जेल पहुंचे। शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। महिला कैदी ने जेल में आत्महत्या क्यों किया, इसका पता नहीं चल सका है। पुलिस जांच-पड़ताल में जुटी है। पुलिस अधीक्षक सुशील घुले ने कहा कि महिला कैदी ने जेल में आत्महत्या कर ली है। विस्तृत जांच कराई जा रही है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

यूपी कैबिनेट की बैठक में जौनपुर की इस नगर पालिका के विस्तार का प्रस्ताव स्वीकृत

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर