नये साल में चालू हो जायेगा वाराणसी लखनऊ मार्ग पर बाई पास, शहर को जाम से मिलेगी निजात


जौनपुर। वाराणसी-सुल्तानपुर मार्ग पर बाईपास नये साल पर चालू हो जाएगा। इसके लिए काम अंतिम दौर में है। बीते बुधवार को जिलाधिकारी मनीष कुमार वर्मा ने एनएच 56 सुल्तानपुर-वाराणसी मार्ग का निरीक्षण किया। साथ ही 30 दिसंबर तक बाईपास के दोनों लेन पर आवागमन चालू करने के लिए शख्त निर्देश दिया है। यदि ऐसा हो जाएगा तो शहर में यातायात व्यवस्था काफी हद तक ठीक हो जाएगी। जाम की समस्या से मुक्ति मिल सकेगी।
वाराणसी से सुल्तानपुर मार्ग पर छोटी-बड़ी गाड़ियों का आवागमन होता है। दिन में लखनऊ, सुल्तानपुर और प्रयागराज से वाराणसी जाने वाली गाड़ियां शहर से ही होकर गुजरती हैं। दिन में मिर्जापुर की ओर से लखनऊ, सुल्तानपुर और वाराणसी जाने वाले ट्रक भी मड़ियाहूं, पकड़ी चौराहा होते हुए नईगंज के रास्ते आते-जाते हैं। जबकि नईगंज रेलवे क्रासिंग में जफराबाद मार्ग पर दो रेलवे क्रासिंग पड़ते हैं। यह दिन में कई बार बंद होते हैं। इससे जाम की समस्या काफी बढ़ जाती है। यदि समय से जाम खुल भी गया तो इन रूटों की गाड़ियों का भार शहर में अधिक हो जाता है। हालांकि इसे देखते हुए वाराणसी-सुल्तानपुर हाइवे पर बाईपास बनाने का फैसला किया गया। इसके लिए दो साल से पहले से ही काम शुरू हो गया था। 14 किमी का बाईपास बनाने का फैसला किया गया। इसके लिए, वाराणसी की तरफ से सिरकोनी ब्लॉक के पास से बनाया जा रहा है, जो लखनऊ मार्ग पर लखौवा के पास निकला है। ऐसे में यह रूट चालू होने से वाहन जाम की समस्या काफी हद तक खत्म हो जाएगी। साथ ही लोगों को राहत मिलेगी। वहीं, दोपहर बाद निरीक्षण के दौरान डीएम ने सड़क निर्माण कार्य की प्रगति की जानकारी प्राप्त ली। उन्होंने जीएम नागार्जुन राव को निर्देश दिया कि गुणवत्ता पूर्ण कराते हुए नियत समय में कार्य पूर्ण कराएं। उन्होंने बताया कि महरुपुर आरओवी का कार्य लगभग पूर्ण हो चुका है। इसी तरह शिवापर अंडर पास पर ढलाई का कार्य चल रहा था। डीएम ने दोनों स्थानों पर शेष कार्य को 15 दिन के भीतर पूर्ण कर लेने के निर्देश दिया है। डेहरापुर आरओवी के निरीक्षण के दौरान पाया कि पक्की ढलाई का कार्य चल रहा था। इसपर पर कार्य में तेजी लाते हुए प्रत्येक दशा में 30 दिसंबर तक दो लेन आम जनता के लिए चालू कर दिया जाए। इस अवसर पर प्रोजेक्ट मैनेजर श्रीनिवास, सुधीर कुमार उपस्थित रहे।

 

 

 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

इलाहाबाद हाईकोर्ट का ग्रामसभा की जमीन को लेकर डीएम जौनपुर को जानें क्या दिया आदेश

सिकरारा क्षेत्र से गायब हुई दो सगी बहने लखनऊ से हुई बरामद, जानें क्या है कहांनी

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने दबंगो के कब्जे से मुक्त करायी 30 करोड़ रुपए कीमत की सरकारी जमीन