पीयू में और 6 सेंटर आफ एक्सीलेंस होंगे स्थापित, सरकार से मिली अनुदान की स्वीकृति


जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय ने शोध के क्षेत्र में एक और बड़ी उपलब्धि हासिल की है। प्रदेश सरकार की ओर से विश्वविद्यालय को छह नए सेंटर ऑफ एक्सीलेंस मिले हैं। इस उपलब्धि पर विश्वविद्यालय की कुलपति प्रोफेसर निर्मला एस. मौर्य ने सभी 6 शिक्षकों को बधाई दी है। उन्होंने कहा कि यह गौरव की बात है कि विश्वविद्यालय ने शोध के क्षेत्र में अपनी अलग पहचान बनाई है।
प्रदेश सरकार की ओर से विवि को छह: नए सेंटर ऑफ एक्सीलेंस स्थापित करने के लिए अनुदान की स्वीकृति मिल गई है। उन्होंने कहा कि नए सेंटर ऑफ एक्सीलेंस के माध्यम से शोध के लिए अनेक अवसर प्राप्त होंगे। इससे शिक्षक और छात्र को नए संसाधन उपलब्ध होंगे। विश्वविद्यालय  में अब कुल 12 सेंटर आफ एक्सीलेंस स्थापित हो जाएंगे।
उत्तर प्रदेश के विभिन्न राज्य विश्वविद्यालयों से शासन को सेंटर ऑफ एक्सीलेंस की स्थापना के लिए आवेदन प्राप्त हुए थे। शासन ने परीक्षण करने के बाद सेंटर ऑफ एक्सीलेंस देने की घोषणा की। मीडिया प्रभारी डॉ. सुनील कुमार ने कहा कि 
 डिपार्टमेंट ऑफ सेंटर आफ साइंस एंड नैनोटेक्नोलॉजी के काजल कुमार डे को तीन लाख 85 हजार, गणित विभाग के डॉ सुशील कुमार शुक्ला को दो लाख 90 हजार रुपए, भौतिक विज्ञान के डॉक्टर मनीष प्रताप सिंह को 3,70000 रुपये अर्थ एंड प्लेनेटरी विज्ञान के डॉ श्याम कन्हैया सिंह को 3,10000, केमिस्ट्री के डॉ मिथिलेश यादव को 2,64000और और फिजिक्स के डॉ पुनीत धवन को ₹3,05000 की धनराशि की शासन की ओर से मंजूरी मिल गई है। इस धनराशि को उपकरण, आकस्मिकता, यात्रा एवं फील्ड कार्य, मैन पावर, प्रोजेक्ट फेलो में खर्च किया जा सकेगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

कैंसर ने ले ली अपना दल के इस विधायक की जान, पूरी विधान सभा शोक में डूबी

स्वामी प्रसाद मौर्य के इस ट्वीट से गरमा गया है सियासी गलियारा

जौनपुर के एसपी सहित यूपी के 11 आईपीएस अधिकारियों का तबादला, अजय पाल शर्मा बने एसपी जौनपुर देखे सूची