17 हजार महिलाओ को मिलेगा लाभ,मिशन शक्ति को बढ़ाने के विभागो को मिला यह निर्देश


जौनपुर । शासन स्तर से मिशन शक्ति को बढ़ावा देने के लिए समस्त विभागों को निर्देश दिया गया है। इसके तहत अकेले मनरेगा से संचालित विभिन्न योजनाओं में 17 हजार महिलाओं को लाभ देने की तैयारी हैं। जिससे महिलाएं अपने आप को सुरक्षित रख सकें।
मनरेगा से संचालित योजनाओं में बकरी शेड, पशुपालन शेड, नर्सरी व बागवानी के लिए मदद समेत अन्य कार्य शामिल हैं। इसमें महिलाओं को लाभ देने वह पशुपालन कार्य व नर्सरी कार्य को आगे स्वरोजगार में बढ़ावा दे रही हैं। पात्रों की तलाश के लिए बकायदा सर्वे कराया जाएगा, जिसकी जिम्मेदारी सचिव, रोजगार सेवक व तकनीकी सहायक की होगी। पहले महज 11 हजार महिलाओं को इसमें जोड़ा गया था। इसमें सभी 21 ब्लाकों की 1740 गांवों की महिलाओं को शामिल किया जाएगा। देखा जाए तो वर्ष 2022-23 में अप्रैल से अब तक कुल मनरेगा में दिए गए रोजगार के सापेक्ष 48.42 फीसद रोजगार महिलाओं ने प्राप्त किए। एनआरएलएम( राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन) के तहत जहां महिलाओं के उत्थान के लिए अकेले करीब एक हजार समूह हैं तो एक समूह में 10-12 महिला सदस्य होंगी। इनकी संख्या भी करीब 10 से 12 हजार हो जाएगी। दो साल पूर्व में गरीब कल्याण मिशन के तहत मिशन शक्ति पर काफी कार्य किया गया था।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

पुलिस मुठभेड़ में मारे गए बदमाशो का शव उनके पिता ने लेने से किया इनकार जानें कारण

गुरूजी को अपनी छात्रा से लगा प्रेम रोग तो अब पहुंच गए सलाखों के पीछे,थाने में हुआ एफआइआर दर्ज

पुलिस मुठभेड़ में दो सगे भाई बदमाश मारे गये एक फरार जिसकी तलाश जारी है