बिजली बकाया पर नहीं काटा जायेगा किसानो का विद्युत कनेक्शन- योगी आदित्यनाथ


मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने साफ किया है कि बिजली बिल बकाया होने पर किसी भी किसान का विद्युत कनेक्शन नहीं काटा जाएगा। उन्होंने कहा कि किसानों का विद्युत कनेक्शन कटने पर संबंधित कार्मिक के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। मुख्यमंत्री ने मंगलवार को आगरा और अलीगढ़ मंडल के भाजपा सांसदों और विधायकों की बैठक में उनसे ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में सहयोग के लिए जिला स्तर पर इन्वेस्टर्स समिट आयोजित कर निवेश आमंत्रित करने को कहा।
मुख्यमंत्री आवास पर आयोजित बैठक में सांसदों और विधायकों ने एक स्वर में ऊर्जा विभाग के खिलाफ गुबार निकाला। उन्होंने आरोप लगाया कि किसानों के ट्यूबवैल पर लगे विद्युत कनेक्शन का बिल बकाया होने पर विभाग के कर्मचारी तुरंत कनेक्शन काट रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसान को नोटिस दिए बिना कनेक्शन काटा जा रहा है और उनसे वसूली की जा रही है। इस पर मुख्यमंत्री ने नाराजगी जताते  हुए कहा कि  किसानों का हित संरक्षण सरकार को शीर्ष प्राथमिकता है। बिजली बिल भुगतान न होने के कारण किसी भी किसान का विद्युत कनेक्शन नहीं काटा जाएगा।  किसानों का विद्युत कनेक्शन काटे जाना स्वीकार्य नहीं है इस तरह की शिकायत मिलने पर दोषी के खिलाफ  कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि खेती-किसानी में बिजली के उपयोग पर किसानों को देय सब्सिडी का लाभ उन्हें अवश्य मिलना चाहिए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि सांसद और विधायक अपने जिले में निवेश के ब्रांड एम्बेसेडर बने। विश्व के निवेशक प्रदेश में निवेश के लिए उत्साहित है। उन्होंने कहा कि ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में मिल रहे लाखों करोड़ का निवेश वर्ष 2027 तक प्रदेश को दस खरब अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने के लक्ष्य को पूरा करने में सहायक होगा। उन्होंने कहा कि सांसद और विधायक भी जिला स्तर पर इन्वेस्टर्स समिट आयोजित कर उसका नेतृत्व करें। क्षेत्र के उद्यमियों, व्यापारियों, प्रवासी लोगों से संपर्क कर उन्हें क्षेत्र की क्षमताओं से परिचित कराएं और निवेश आमंत्रित करें। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों के सहयोग से यह इन्वेस्टर्स समिट नई ऊंचाइयों को छूने वाली होगी। उल्लेखनीय है कि सोमवार शाम सहारनपुर, झांसी और आजमगढ़ मंडल के सांसद विधायकों के साथ सीएम ने संवाद किया था। 
मुख्यमंत्री ने कहा कि सांसद - विधायक क्षेत्र में संचालित विकास परियोजनाओं का निरीक्षण करें। इससे उनकी अच्छी छवि बनेगी और कार्य में गुणवत्ता आएगी। उन्होंने साफ कहा कि क्षेत्र आपका है, सजग आपको रहना होगा। कोई भी कार्य अधोमानक न हो, गुणवत्ता और समयबद्धता सुनिश्चित करें। कोई समस्या हो तो मुख्यमंत्री कार्यालय को अवगत कराएं। सरकार उस पर तत्काल कार्यवाही करेगी।
उन्होंने कहा कि सांसद और विधायक जनता से संवाद में सोशल मीडिया के प्लेटफार्म का उपयोग करें। उन्होंने कहा कि ब्रज क्षेत्र में 84 कोसी परिक्रमा मार्ग के सुदृढ़ीकरण को तत्परता से समयबद्ध ढंग से पूरा किया जाए।  उन्होंने कहा कि निराश्रित गो आश्रय स्थलों के संचालन में भी सांसद विधायक सहयोग करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि थाना व तहसील दिवस पर आने वाली शिकायतों का समयबद्ध समाधान होना चाहिए। विधायक और सांसद भी वहां जाकर निरीक्षण करें।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मेदांता में इलाज करा रहे इस आईएएस अधिकारी का हुआ निधन

जौनपुर में फिर तड़तड़ायी गोलियां एक युवक गम्भीर रूप से घायल बदमाश फरार, पुलिस अंधेरे में चला रही छानबीन की तीर

थाना चन्दवक की वसूली लिस्ट वायरल होने पर एक बार फिर सुर्खियों में पुलिस जांच शुरू