बारिश से किसानो के फसलों के नुकसान की क्षतिपूर्ति करेगी यूपी सरकार- मंत्री सूर्य प्रताप शाही


पूर्वांचल के जिलों में बेमौसम बारिश के कारण किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है। बारिश के कारण फसलें चौपट हो रही हैं। बीते शनिवार से रविवार तक कई जिलों में आंधी तूफान के साथ बारिश हो रही थी। कहीं-कहीं ओलावृष्टि की भी खबर है। ऐसे में सोमवार को पूर्वांचल दौरे पर निकले और वाराणसी पहुंचे कृषि मंत्री सूर्य प्रताप शाही ने कहा कि बारिश में हुए फसलों के नुकसान का सरकार मुआवजा देगी।
उन्होंने कहा कि राज्य सरकार सभी किसान भाइयों के साथ है, उनकी हर संभव सहायता की जाएगी। सर्किट हाउस में मीडिया से बात करते हुए कृषि मंत्री ने बेमौसम बारिश के कारण 10 लोगों की हुई असामयिक मौत पर दु:ख व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि मृत किसानों के परिजनों चार लाख रुपये की आर्थिक मदद की जाएगी। बताया कि इस संबंध में जिलाधिकारियों को निर्देश दिया गया है।
आगे उन्होंने कहा कि दो दिनों की भारी बारिश किसानों की फसलों को जितना भी नुकसान हुआ उसका आंकलन किया जा रहा है। किसानों को क्षतिपूर्ति होगी। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत जिन किसानों ने अपना बीमा कराया है, उन कंपनियों के साथ लखनऊ में बैठक करेंगे। 
वहीं जिन जिलों ओलावृष्टि के कारण क्षति हुई है वहां व्यक्तिगत तौर सूचना बैंक और इंश्योरंस कंपनी जिसने पीएम फसल बीमा योजना के तहत फसलों बीमा कराया है उनको किसान 72 घंटे के अंदर ही आवेदन के जरिए सूचना दे दें। कृषि मंत्री ने कहा कि बारिश से ललितपुर, प्रतापगढ़, आंबेडकर नगर और बुलंदशहर जिलों फसलों को नुकसान की सूचना मिली है।
आंकलन के लिए अधिकारियों को कहा गया है। रविवार को हुई बारिश की सूचना मंगाई गई है। जिन इलाकों ओलावृष्टि हुई उनके लिए सहायता नंबर जारी किए गए है। जिसपर किसान सूचना दे सकते हैं। कृषि वैज्ञानिकों का अनुमान है कि बेमौसम बारिश से रबी की फसलों को 15 प्रतिशत तक नुकसान हुआ है। 
50 प्रतिशत अनुदान पर संकर प्रजाति के मोटे अनाज के बीज वितरण की घोषणा के साथ कृषि मंत्री ने किसानों की सुविधा के लिए 10 हजार तक कीमत के कृषि यंत्रों पर अनुदान का लाभ देने की  घोषणा की। प्रदेश के सभी विकास खंड के राजकीय बीज गोदामों पर इस योजना का लाभ ले सकते हैं।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद