जानें आखिर शादी के मंडप में बैठने से पहले क्यों फरार हो गयी दुल्हन,बात सुनकर पुलिस भी स्तब्ध

 
जौनपुर। थाना जलालपुर क्षेत्र स्थित एक गांव में एक युवती हाथ में मेहंदी रचने के साथ ही हल्दी की रस्म भी पूरी करायी लेकिन आईएएस बनने का सपना संजोए उसने ऐसा कदम उठाया कि सभी लोग स्तब्ध रह गए। मंगलगीतों के बीच रस्मों को निभाया जा रहा था। रात में आने वाली बरात के स्वागत की तैयारी हो रही थी। इसी बीच मौका पाकर दुल्हन घर से फरार हो गई। जानकारी मिलते ही परिवार में हड़कंप मच गया। काफी देर तक खोजबीन की गई, लेकिन मिली नहीं। इधर शाम हो गई तो बरात भी समय से आ गई। आननफानन बरात पक्ष के लोगों से बात की गई। दूल्हा पक्ष के लोगो ने सूझबूझ का परिचय दिया। दुल्हन की चचेरी बहन से शादी को तैयार होते हुए शादी की रस्म पूरी करा दी गई।
इसके बाद घटना के दूसरे दिन थाने पहुंचकर फरार युवती ने पुलिस से जो कहा वह हर किसी को सोचने के लिए विवश कर दिया। उसने कहा कि मैं पढ़ना चाहती हूं, लेकिन परिवार के लोग जबरदस्ती शादी कर मुझे पढ़ाई से वंचित करना चाहते हैं। मैं आईएएस बनना चाहती हूं। इसीलिए शादी करने से इनकार करते हुए भागी। शादी न करने की जानकारी मैं पहले भी अपनी मां को बता चुकी थी।
जलालपुर थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी एक युवती की शादी कल्याणपुर मिर्जापुर निवासी युवक के साथ तय थी। शनिवार को बरात आनी थी। शादी की तैयारियां चल रही थीं। दोपहर 12 बजे रस्मों के दौरान युवती बिना किसी को बताए घर से निकल गई। परिजनों को पता चला तो उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। उसकी तलाश में लोग जुट गए।
देर शाम तक लड़की नहीं मिली तो पिता ने पुत्री के गायब होने की सूचना पुलिस को दी। इधर, निर्धारित समय बरात आ गई तो होने वाली दुल्हन की चचेरी बहन को शादी के लिए मनाया गया। वो तैयार हो गई तो परिजनों के चेहरे पर खुशी लौटी मगर ये सोचकर फिर से निराश हो गए कि क्या दूल्हा तैयार होगा। कन्या पक्ष के लोगों ने बरात पक्ष को घटनाक्रम से अवगत कराया। दूल्हे ने समझदारी दिखाई और वो शादी के लिए तैयार हो गया।
इस बात की खबर लगते ही कन्यापक्ष के लोगों ने फरार बेटी के गम को भूल कर धूमधाम से विवाह संपन्न कराया। रविवार को विदाई होने के बाद ही घर से भागी लड़की स्थानीय थाने पहुंच गई। प्रभारी निरीक्षक रामसुरिख गौतम ने भागने का कारण पूछा तो उसने बताया कि घरवाले जबरदस्ती मेरी शादी करवाना चाहते थे। मुझे आईएएस की तैयारी करनी है। उसने बताया कि उसे किसी ने भगाया नहीं बल्कि खुद से गई थी।

Comments

Popular posts from this blog

सड़क दुर्घटना में सिपाही की मौत विभाग में शोक की लहर

एसपी जौनपुर ने फिर आधा दर्जन से अधिक थाना प्रभारियों का किया तबादला

जौनपुर जलालपुर थाने के नये थानेदार को सिर मुड़ाते ही पड़े ओले, रेहटी गांव में हत्या कर फेंकी लाश मिलने से इलाके में सनसनी