मधुमेह रोगियों के लिए लाभकारी है कपालभाति :जय सिंह गहलोत

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के मुक्तांगन परिसर में विश्वविद्यालय की ओर से सोमवार को पांचवें दिन  मुख्य प्रशिक्षक जय सिंह गहलोत एवं सहायक प्रशिक्षक विकास सिंह ने कपालभाति प्राणायाम के बारे में विस्तार से चर्चा की। उन्होंने कहा कि यह चयापचय प्रक्रिया को बढ़ाता है और वज़न कम करने में मदद करता है। साथ ही नाड़ियों का शुद्धिकरण करता है।
पेट की मांसपेशियों को सक्रिय करता है, जो कि मधुमेह के रोगियों के लिए अत्यंत लाभदायक है। यह बार रक्त परिसंचरण को ठीक करता है, और चेहरे पर चमक बढ़ाता है।
इससे मस्तिष्क और तंत्रिका तंत्र  ऊर्जान्वित होती है और मन शांत होता है।
इसके बाद भ्रामरी प्राणायाम का अभ्यास कराया। कहा कि यह प्राणायाम व्यक्ति को चिंता, क्रोध व उत्तेजना से मुक्त करता है। हाइपरटेंशन के मरीजों के लिए यह प्राणायाम की प्रक्रिया अत्यंत लाभदायक है, यदि आपको अधिक गर्मी लग रही है या सिरदर्द हो रहा है तो यह प्राणायाम करना लाभदायक है।


इस प्राणायाम के अभ्यास से बुद्धि तीक्ष्ण होती है, आत्मविश्वास बढ़ता है।
योग शिविर में शिक्षक, कर्मचारियों विद्यार्थियों ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया।
इस अवसर पर प्रो अजय द्विवेदी, परीक्षा नियंत्रक वीएन सिंह, उपकुलसचिव अमृतलाल, श्रीमती बबिता सिंह,एनएसएस समन्वयक डॉ राजबहादुर यादव, डॉ मनोज कुमार पाण्डेय, , डॉ विवेक पाण्डेय, डॉ पुनीत सिंह, डॉ विनय वर्मा, मदन मोहन भट्ट, संतोष यादव, राजेंद्र प्रताप सिंह, राजन गुप्ता, रजनीश सिंह समेत  विद्यार्थियों, कर्मचारियों, परिवार जनों एवं सुरक्षा कर्मियों ने प्रतिभाग किया।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर की तीन थानाध्यक्षो सहित 62 दरोगा का स्थानांतरण हुआ गैर जनपद

एसपी जौनपुर ने फिर आधा दर्जन से अधिक थाना प्रभारियों का किया तबादला

जौनपुर जलालपुर थाने के नये थानेदार को सिर मुड़ाते ही पड़े ओले, रेहटी गांव में हत्या कर फेंकी लाश मिलने से इलाके में सनसनी