सिपाही की सीधी भर्ती परीक्षा में नकल रोकने के लिए तकनीक एआई का होगा इस्तेमाल



यूपी पुलिस में होने वाली सबसे बड़ी सिपाही सीधी भर्ती परीक्षा के लिए उप्र पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड आर्टिफिशिएल इंटेलिजेंस (एआई) का इस्तेमाल करेगा। बोर्ड ने परीक्षा कराने वाली कार्यदायी संस्था के चयन में तकनीक संबंधी इस बिंदु को भी शामिल किया है। 
दरअसल, भर्ती परीक्षाओं में लगने वाली सेंध पर अंकुश लगाने के लिए तकनीक का इस्तेमाल कर मुन्ना भाइयों को दबोचने में खासी मदद मिल रही है। इसी वजह से सिपाही भर्ती परीक्षा के दौरान बायोमीट्रिक के साथ फेस रिकग्निशन समेत तमाम अत्याधुनिक तकनीक का इस्तेमाल करने की तैयारी है।
बोर्ड के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि सिपाही भर्ती की लिखित परीक्षा को ऑफलाइन कराए जाने का निर्णय लिया गया है। इसमें ओएमआर शीट पर वस्तुनिष्ठ प्रश्नों के उत्तर देने होंगे। परीक्षा में कोई सेंध न लगा सके, इसके लिए एआई का इस्तेमाल किया जाएगा। हाल ही में हुई वीडीओ परीक्षा में इसके इस्तेमाल से तमाम परीक्षा केंद्रों पर सॉल्वरों को आसानी से दबोचा गया था। 
फेस रिकग्निशन तकनीक से करीब 200 मुन्ना भाइयों को पकड़ा गया था। इसी वजह से बोर्ड सिपाही भर्ती परीक्षा के दौरान फेस रिकग्निशन तकनीक के अलावा अभ्यर्थियों की हथेली और आंखों के जरिये उनकी पहचान को सत्यापित कराने की तैयारी की है। साथ ही, अभ्यर्थी की पहचान की पुष्टि के लिए आधार को भी इससे जोड़ा जाएगा।

Comments

Popular posts from this blog

हाईकोर्ट का शख्त आदेश एसपी जौनपुर एवं एसएचओ झूंसी लापता महिला को कोर्ट में करे हाजिर,जानें क्या है मामला

कांवड़ यात्रियों के लिए मुख्यमंत्री का शख्त आदेश, तो अखिलेश, मायावती का शख्त विरोध, जानें क्या है आदेश

पैतृक सम्पत्तियों को विवाद मुक्त करने के लिए जानिए क्या व्यवस्था कर रही है यूपी सरकार, नहीं लगाने होंगे तहसील के चक्कर