चोर एंबुलेंस के जरिए जानें कैसे चोरी की घटना को अंजाम दे रहे थे पुलिस ने ऐसे खोली पोल अपराधी गये जेल



प्रदेश की राजधानी में कानून और पुलिस के डर से बेख़ौफ अपराधी देर रात हूटर बजाते हुए तमंचा लेकर एंबुलेंस में घूमकर चोरी जैसी संगीन घटना को अंजाम देने जा रहे थे लेकिन पुलिस ने शक के आधार पर गिरोह के सरगना समेत पांच आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। रास्ते में पुलिस की चेकिंग मिलने पर एक आरोपित मरीज बनकर एंबुलेंस में लेट गया था।
पुलिस की माने तो आरोपित लखनऊ में दुकानों के शटर और ताले को गैस कटर से काटकर वारदात करते थे। पुलिस ने दो तमंचा, चार कारतूस, भारी मात्रा में आटो मोबाइल, इलेक्ट्रानिक की दुकान से चोरी के सामान की बरामदगी की है।आरोपित महिगवां निवासी सुशील कुमार, आजादनगर निवासी सैफ अली, सीतापुर मोतीपुर निवासी सचिन, महमूदाबाद निवासी मनीष कुमार और मड़ियांव निवासी मो. साजिद है।
एडीसीपी उत्तरी अभिजित आर शंकर का बयान है कि मड़ियांव इंस्पेक्टर शिवानंद मिश्र क्राइम ब्रांच टीम के साथ सीतापुर रोड पर चेकिंग कर रहे थे। इसी दौरान सूचना मिली कि मड़ियांव टैंपो स्टैंड के पास एक एंबुलेंस में बैठकर कुछ लोग चोरी की योजना बना रहे हैं। वहां से पुलिस ने पांचों को गिरफ्तार कर एंबुलेंस भी जब्त कर लिया। आरोपित सुशील पेशे से इलेक्ट्रीशियन, साजिद एंबुलेंस चालक, सचिन व मनीष वेल्डिंग की दुकान में काम करते थे।

Comments

Popular posts from this blog

बाहुबली नेता एवं पूर्व विधायक के परिवार जनों पर फिर मारपीट और छेड़खानी का मुकदमा हुआ दर्ज, पुलिस जांच पड़ताल में जुटी

भाजपा के प्रत्यशियो की दसवीं सूची जारी, मछलीशहर से भी प्रत्याशी घोषित देखे सूची

लोकसभा चुनाव के लिए बसपा की चौथी सूची जारी, जानें किसे कहां से लड़ा रही है पार्टी, देखे सूची