जानिए आखिर मात्र नौ माह चलने के बाद क्यों बन्द हो गया सालिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लान


जौनपुर। कुल्हनामऊ में 12.39 करोड़ की लागत से बनाया गया सॉलिड वेस्ट मैनेजमेंट प्लांट करीब तीन साल से बंद पड़ा है। इसके संचालन की जिम्मेदारी लेने वाली फर्म एटूजेड ने बोरिया-बिस्तर समेटने के साथ 40 लाख रुपये बिजली बिल भी जमा नहीं किया। इस पर विद्युत निगम ने बिजली का कनेक्शन काट दिया। अब नगर पालिका ने एटूजेड को आरसी जारी की है। कुल्हनामऊ में सालिडवेस्ट मैनेजमेंट प्लांट के निर्माण लिए वर्ष 2011 में बसपा के शासन में शिलान्यास किया गया था। इसके बाद वर्ष 2013 में इसका निर्माण शुरू हुआ। 12.39 करोड़ की लागत से 11 एकड़ में यह 11 साल में बनकर तैयार हुआ। इसका उद्घाटन 18 मार्च 2021 को तत्कालीन नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने किया था। इस प्लांट के निर्माण से लेकर संचालन तक की जिम्मेदारी एटूजेड को दी गई थी। संस्था ने मार्च 2021 से नवंबर 2021 तक इसका संचालन किया। इस दौरान करीब 40 लाख रुपये बिजली बिल इकट्ठा हो गया, जिसे एटूडेड ने नहीं जमा किया। फर्म ने कर्मचारियों का भुगतान न होने की बात कहते प्लांट का संचालन भी बंद कर दिया। नगर पालिका परिषद जौनपुर का दावा है कि वह अपने कर्मचारियों को लेकर काम करवाते लेकिन बकाए का 40 लाख बकाया होने के चलते कनेक्शन काट दिया गया है। इससे थोड़ा बहुत भी संचालन नहीं हो पा रहा है। नया टेंडर कराकर जिस फर्म को दिया जाएगा, उसके लिए एटूजेड से पुराना बकाया जमा करवाना होगा।

Comments

Popular posts from this blog

पूर्व सांसद धनंजय सिंह के प्राइवेट गनर को गोली मारकर हत्या इलाके में कोहराम पुलिस छानबीन में जुटी

सपा ने जारी किया सात लोकसभा के लिए प्रत्याशियों की सूची,जौनपुर से मौर्य समाज पर दांव,बाबू सिंह कुशवाहा प्रत्याशी घोषित देखे सूची

लोकसभा चुनाव के लिए बसपा की चौथी सूची जारी, जानें किसे कहां से लड़ा रही है पार्टी, देखे सूची