महामारी में जरूरतमंदों के लिए देवदूत बनकर सामने आयी बानर सेना



जौनपुर। जिस तरह त्रेता युग मे मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम का साथ देते हुए उनके संकट को समाप्त किया था वही उसी तरह वर्तमान के कलयुग में कोरोना  के रुप में पनपी महामारी में एक बार फिर बानर सेना आ गई है जौनपुर जैसे शहर की उपज माने जाने वाली बानर सेना इस समय कोरोना पीड़ितों की मदद हेतु हर कदम खड़ी है अपने सेवा कार्य को लेकर बानर सेना इस समय सुर्खियों में बनी हुई है। गौरतलब हो कि इस टीम का नेतृत्व शेरवा निवासी पीसीएस अधिकारी अजीत प्रताप सिंह कर रहे है।
 खुटहन सहाबुद्दीनपुर जौनपुर की पूजा सिंह को डिलीवरी थी पेट मे ही तीन महीने का बच्चा मृत हो जाने से जच्चा की भी जान खतरे में थी। जनपद जौनपुर के उजाला अस्पताल में परिजनों ने एडमिट कराया था जहाँ उनका तत्काल आपरेशन होना था। आपरेशन के समय खून की जरूरत पड़ी तो सहयोग के लिए कोई आगे नही आया। किसी ने परिजनों राहुल से बानर सेना के बारे में बताया और कहा कि मदद का पूरा भरोसा है। राहुल ने टीम संचालक अजीत सिंह से मदद के लिए गुहार लगाई, अजीत ने अपने फेसबुक पेज से देवदूतों को याद किया और हर संभव मदद के लिए कहा। प्रत्येक दिन की भांति बानरी सेना के सदस्यों ने फेसबुक पोस्ट को देखकर तत्काल ईशा अस्पताल ब्लड बैंक पहुचकर रक्तदान किया जिससे महिला की जान बच सकी। विगत दो दिन पहले यही बानर सेना के सदस्यों ने महराजगंज निवासी युवक के 8 दिन के बच्चे को खून देकर जान बचाया था जो कि चर्चा का विषय था।
इस बाबत युवा समाजसेवी समाजवादी विचारधारा से जुड़े अतुल सिंह ने बताया कि वर्तमान के संकट पे जो काम आए उससे बड़ा कोई सुभचिंतक नही इसी को मूल मानकर तमाम सहयोगियों को कही आक्सीजन तो कही किसी अस्पताल में भर्ती कराना तो कही दवा, प्लाज़मा, खून आदि की सुविधा उपलब्ध कराने में लगे है। उन्होंने  बताया कि इस महामारी में जहां खून के रिश्ते अपने बीमार लोगो से दूरी बना रहे है वही बिना किसी स्वार्थ से बानर सेना मदद के उद्देश्य के अनुरूप ऐसे लोगो के लिए सेना से जुड़े लोग पूरे मुश्तैदी से खड़े रहते है।
श्री सिंह ने बताया कि पिछले कई दिन से बानर सेना से जुड़े लोग बीमार लोगो को हर सम्भव मदद पहुँचा रहे है,जिसके सेवा कार्य को देखते हुए 5 हज़ार से अधिक लोग ऐसे  सेना से जुड़ गए है और लगातार लोग अधिकाधिक मात्रा में जुड़ रहे है।  जिनमे अधिकारी, अधिवक्ता, शिक्षक , व्यापारी  दुकानदार आदि शामिल है।
उन्होंने यह भी बताया कि बानर सेना जौनपुर ही नही बल्कि देश के राजधानी दिल्ली के अलावा झारखंड ,मध्यप्रदेश,ओडिसा बिहार आदि प्रान्तों में भी लोगो की भरपूर मदद कर रहे है।
 बानर सेना में प्रमुख रूप से पंकज शुक्ला, अवनींद्र यादव, अभय राज, सोनू यादव, अभिषेक, अमन, निर्भय,तुषार सिंह गोलू ,तुषार लाला,हर्ष सिंह छोटू समेत सैकड़ो कार्यकर्ता जुड़े है जो कि बानर सेना देवदूत लिखी यूनिफार्म में शहर के आस पास किसी न किसी की मदद के लिए देखे जा रहे है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सपा ने पहले फेज के चुनाव हेतु प्रत्याशियों की जारी की सूची इन लगाया दांव

थाने में खड़ी गाड़ियां दीवान ने कबाड़ी को बेचीं, एसपी ने किया निलंबित, कबाड़ी भी गिरफ्तार

आइए जानते है मुन्ना बजरंगी के भाई को पुलिस ने क्यों किया गिरफ्तार