फर्जी डिग्री के आधार पर शिक्षक बनकर सरकारी खजाने को चूना लगाने वाला पहुंचा सलाखों के पीछे



फर्जी प्रमाण पत्र के जरिए शिक्षक बन नौकरी कर सरकारी खजाने को चूना लगाने वाले तथा कथित शिक्षक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर जेल की सलाखों के पीछे पहुंचा दिया गया है।जी हां जनपदसोनभद्र में फर्जी सर्टिफिकेट के आधार पर नौकरी करने वाले एक शिक्षक को पुलिस ने उसके जनपद बलिया स्थित निजी आवास से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

पुलिस सूत्रों के अनुसार जनवरी 2021 मे खण्ड शिक्षा अधिकारी कोन मुकेश कुमार के तहरीर पर अध्यापक अमित सिंह यादव के खिलाफ फर्जी प्रमाण पत्र के आधार पर नौकरी करने का मुकदमा दर्ज कराया था। उसके बाद से आरोपी अध्यापक फरार था। न्यायालय से वांछित वारंटी अमित सिंह यादव निवासी ग्राम कोड़ारा थाना चितबड़ागांव जिला बलिया को न्यायालय पेश करने के लिए स्थानीय पुलिस ने गिरफ्तार करने के लिए उसके यहां कई बार दबिश दी लेकिन पकड़ से दूर रहा। मामले के विवेचक पुलिस उपनिरीक्षक सुनील दीक्षित के अनुसार आरोपी वारंटी अमित सिंह यादव को उसे बलिया आवास से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

गौरतलब है कि अमित सिंह यादव बीएलएड की फर्जी सर्टिफिकेट लगाकर शिवपुर विकास खण्ड कोन में सहायक अध्यापक के पद पर तैनात था।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर में बसपा को जोर का झटका करीने से, डॉ जेपी सिंह ने सुभासपा किया ज्वाइन

यूपी: भाजपा ने जारी किया पहले और दूसरे चरण में चुनाव के प्रत्याशियों की सूची,योगी जी लड़ेंगे गोरखपुर से ,देखे सूची

मल्हनी विधायक लकी यादव एवं उनके एक दर्जन समर्थको पर बक्शा थाने में दर्ज हुआ मुकदमा