आज तय हो जायेगा केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड से छात्रो को पास करने का मानदंड, जानें क्या है योजना



कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए बीते दिनों सरकार ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) की 12वीं की परीक्षा को रद्द करने का एलान किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कई मंत्रियों के बीच हुई बैठक के बाद सीबीएसई और सीआईएससीई की कक्षा 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं कैंसिल कर दी गई थीं। अब बोर्ड की ओर से कक्षा 12 के छात्रों के लिए मार्किंग पॉलिसी तय करना बाकी है। इस क्रम में रिजल्ट की प्रक्रिया को लेकर बनी 13 सदस्यीय सम‍िति आज सुप्रीम कोर्ट को अपनी रिपोर्ट सौंपेगी, जिसमें CBSE और ICSE की 12वीं क्लास की परीक्षा का मार्किंग क्राइटेरिया दिया जाएगा। बताते चलें कि SC की ओर से 12वीं के छात्रों के रिजल्ट घोषित करने के मानदंड के बारे में सूचित करने के लिए केंद्र, सीबीएसई और CISCE यानी काउंसिल फॉर द इंडियन स्कूल सर्टिफिकेट एग्जामिनेशन के लिए दो हफ्ते तक का वक्त दिया गया था। 
ऐसे तैयार किया जाएगा 12वीं के छात्रों का रिजल्ट बता दें कि बोर्ड अधिकारियों ने कहा है कि सीबीएसई बोर्ड (CBSE Board) 12वीं क्लास के स्टूडेंट्स को मार्क्स के बजाय ग्रेड देने के सुझाव पर विचार कर रहा है। सूत्रों का कहना है कि बोर्ड की ओर से सुप्रीम कोर्ट में आज 12वीं क्लास की परीक्षा का मार्किंग क्राइट्रेरिया दिया जाएगा। 12वीं के छात्रों के रिजल्ट के लिए ये भी कहा जा रहा है कि इसे प्री बोर्ड, 10वीं और 11वीं के नंबर जोड़कर तैयार किया जा रहा है। इस पर स्थिति आज साफ हो जाएगी। 
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस फैसले के बारे में ट्वीट कर कहा था, "भारत सरकार ने 12वीं कक्षा की सीबीएसई बोर्ड परीक्षा रद्द करने का फैसला किया है। व्यापक विचार-विमर्श के बाद, हमने एक निर्णय लिया है जो छात्रों के अनुकूल है, जो हमारे युवाओं के स्वास्थ्य के साथ-साथ उनके भविष्य की भी रक्षा करता है।"

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

आज से लगातार 08 दिनों तक बैंक रहेंगे बन्द जानें इस माह में कितने दिवस होगे काम काज

यूपी के गांव में जमीनी विवाद खत्म करने के सरकार ने बनायी यह योजना,नहीं होगी मुकदमें की नौबत