धर्मांतरण करा कर 15 साल रिलेशन शिप में रहने के बाद शादी करने वाला युवक फरार, युवती न्याय पाने के लिए पहुंच गई थाने पर


उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ से खबर वायरल हुई है कि विगत 15 साल पहले धर्मांतरण कराके शादी कर रिलेशन शिप में रहने के बाद अब गैर समुदाय के युवक ने युवती को दर-दर की ठोकरें खाने को छोड़ दिया। शनिवार को पीड़ित युवती थाना क्वार्सी पहुंची और पति पर टॉर्चर कर छोड़ने का आरोप लगाया। युवती ने बताया कि 15 साल से अलीगढ़ के रहने वाले अबू आमिर के साथ रह रही थी। अबू आमिर लखनऊ में इंटीग्रल यूनिवर्सिटी से इंजीनियरिंग कर रहा था। पढ़ाई के दौरान युवती की मुलाकात अबू आमिर से हुई थी फिर अबू आमिर ने युवती ने नजदीकियां बढ़ा ली। कई साल तक रिलेशन में रहे इसके बाद इस्लामिक रीति रिवाज से युवती की शादी 13 जून 2020 को हुई। युवती लखनऊ में किराए के मकान में रह रही थी। इस बीच अबू के परिजनों ने दूसरी जगह शादी कराने की तैयारी कर ली और पिछले चार महीने से अबू आमिर फरार है। 
अबू आमिर के पिता डॉ. अबू अंसारी अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में शिक्षक के पद से रिटायर हुए हैं। पीड़ित युवती ने बताया कि अबू आमिर ने शादी का वादा किया था और 15 साल से रिलेशन में थे। वही लखनऊ में 11 जून 2020 को पीड़ित युवती ने जब पूरे मामले की शिकायत गोमती नगर थाने में की तो लड़के के पिता शादी के लिए तैयार हो गए। इस्लामिक रीति रिवाज से निकाह हो गया। वहीं निकाह के बाद युवती अलीगढ़ भी आई लेकिन इस रिश्ते में मिठास नहीं थी। अबू आमिर के पिता ने युवती से छुटकारा पाने के लिए झूठे मुकदमे लगाने की कोशिश की। धमकियां भी देते रहे इस बीच ससुराल से पीड़ित युवती को निकाल दिया। हालांकि पीड़ित युवती लखनऊ में किराए के मकान में रह रही थी और पति भी साथ में था लेकिन 14 अप्रैल 2021 के बाद से अबू आमिर युवती को छोड़कर फरार है। 
अबू आमिर के पिता डॉ अबू अंसारी का कहना है कि बेटे को परिवार से बेदखल कर दिया है। वहीं अबू आमिर का कोई पता नहीं हैं मोबाइल भी बंद है युवती से पहले 15 साल रिलेशन बनाया। इस्लामिक रीति रिवाज से शादी किया लेकिन अब अबू आमिर साथ में रखने को तैयार नहीं है। वहीं पीड़ित युवती ने थाना क्वार्सी पुलिस को लिखित शिकायत की है और परिवार से अपने हक की लड़ाई लड़ रही है। इस मामले में सपा के पूर्व विधायक हाजी जमीर उल्ला भी युवती के पक्ष में खड़े हो गए हैं और वह थाने से लेकर कोर्ट तक युवती की मदद कर रहे हैं। हाजी जमीर उल्लाह खान ने बताया कि लड़के के पिता डॉ. अबू अंसारी के परिवार से युवती को रखने को लेकर बात की लेकिन परिवार रखने को राजी नहीं है। अबू आमिर गायब है और अब युवती को इंसाफ दिलाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। इस मामले में थाना क्वार्सी पुलिस मुकदमा लिख जांच में जुट गई है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर

महज 20 रूपये के लिए रेलवे से लड़ा 22 साल मुकदमा और जीता,जानें क्या है मामला