रहस्यः एक परिवार के तीन सदस्यो की मौत,दो की हालत नाजुक,आखिर भोजन में जहर आया कहां से ?


प्रदेश के एक गांव में जहरीला खाना खाने से तीन लोगों की मौत हो गयी जबकि दो लोगों की स्थिति नाजुक बनी हुई है। दोनो का इलाज इलाहाबाद के अस्पताल में चल रहा है। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। खाने में जहर कहां से आया या किसी ने मिला दिया या फूड प्वाइजनिंग से लोगों की मौत हो गयी इसकी जानकारी पुलिस जुटा रही है। कौशांबी में सराय अकिल कोतवाली क्षेत्र के चक पिन्हा गांव में बीती रात एक ही परिवार के 5 लोगों ने भोजन में जहरीला पदार्थ खा लिया। जिससे परिवार की सास बहू और पोता सहित तीन लोगों की मौके पर मौत हो गई। जबकि जहरीला पदार्थ खाने से गृह स्वामिनी के बड़े बेटे और छोटी बहू की हालत गंभीर बनी हुई है। गंभीर हालत में दोनों को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। 
हालत में सुधार न होने पर चिकित्सकों ने दोनों को इलाहाबाद के अस्पताल में रेफर कर दिया। बता दें कि परिवार में 7 लोग मौजूद थे 2 लोगों ने भोजन नहीं किया था। 5 लोगों के जहर खाने की जानकारी मिलने के बाद घटनास्थल पर थाना पुलिस के साथ-साथ क्षेत्राधिकारी अपर पुलिस अधीक्षक कौशांबी घटनास्थल पर पहुंचे और घटना के बारे में लोगों से पूछताछ कर हकीकत खंगाल रहे हैं। अभी यह पता नहीं चल पाया है कि आखिर खाने जहर आया कहां से या फिर फूड प्वाइजनिंग से मौत हो गयी। जानकारी के मुताबिक सराय अकिल कोतवाली क्षेत्र के चक पिन्हा गांव निवासी शिवकली उम्र लगभग 60 वर्ष के परिवार में बड़ा बेटा कंधई लाल उम्र लगभग 32 वर्ष बड़ी बहू सीमा देवी उम्र लगभग 30 वर्ष छोटी बहू सविता देवी उम्र 25 वर्ष पोता मोहित और डीएम, पोती मोहिनी सहित भरा पूरा परिवार है। छोटा बेटा रोजी रोटी के चक्कर में परदेश में रहता है। मंगलवार की शाम घर में बनाए गए भोजन में जहर मिल गया जिसकी जानकारी परिजनों को खाने के बाद हुई। भोजन करने के बाद परिवार के लोग तड़पने लगे और उल्टियां शुरू हो गयीं और बेचौनी बढ़ गई। मोहित और मोहिनी ने भोजन नहीं किया था।  
घर के भीतर शिवकली उम्र लगभग 60 वर्ष सीमा देवी उम्र 30 वर्ष और डीएम उम्र लगभग 5 वर्ष की मौके पर मौत हो गई तीन लोगों की मौत की जानकारी ग्रामीणों को सुबह हुई। ग्रामीणों ने मामले की सूचना पुलिस को दी मौके पर कन्हैया लाल और सविता देवी की हालत खराब थी। कन्हैया लाल और सविता को पुलिस ने इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया जहां उनकी हालत गंभीर होने पर इलाहाबाद रेफर कर दिया गया है। अब सवाल उठता है कि परिजनों के भोजन में जहर कैसे पहुंचा यह बड़ी जांच का विषय है। 5 लोगों को जहर खिलाने के पीछे कहीं किसी बड़ी साजिश की संभावना तो नहीं है या फिर यह संयोग था कि खाने में जहर मिल गया। और भोजन में गंध मारने के बाद भी परिजनों ने भोजन को बाहर फेंकने के बजाय खा पीकर सो गए। मृतकों के शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। एक साथ तीन लोगों की मौत के बाद पूरे गांव में मातम का माहौल पसरा है।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

स्वागत कार्यक्रम में सपाईयों के बीच मारपीट की घटना से सपा की हो रही किरकिरी

हलाला के नाम पर मुस्लिम महिला के साथ सामुहिक दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज मौलाना फरार

मारपीट की घटना को विधायक एवं उनके समर्थको पर लूट तक का मुकदमा हुआ दर्ज