नव नियुक्त मुख्य सचिव दुर्गा प्रसाद मिश्रा ने कार्यभार ग्रहण करने के बाद जानें क्या बतायी प्राथमिकता


नवनियुक्त मुख्य सचिव दुर्गाशंकर मिश्रा ने बृहस्पतिवार को लोकभवन स्थित कार्यालय में कार्यभार संभाला। इस मौके पर उन्होंने कहा कि प्रधनमंत्री और मुख्यमंत्री द्वारा की गई विकास व जनकल्याणकारी योजनाओं को मूवमेंट के तौर पर पूरा कराने पर पूरा फोकस करेंगे। वह दफ्तर में बैठकर नहीं, बल्कि फील्ड में उतरकर काम करेंगे। नए मुख्य सचिव कार्यभार संभालने के बाद पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने नए दायित्व के लिए प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के प्रति आभार जताते हुए कहा कि उन्होंने जिस विश्वास से मुझे अपने प्रदेश में दुबारा सेवा करने का मौका दिया है। उस विश्वास पर खरा उतरने का प्रयास करूंगा।
मुख्य सचिव ने कहा कि केंद्र सरकार की स्मार्ट सिटी, अमृत, पीएम स्वनिधी, स्वच्छ भारत मिशन जैसी योजनाओं पर विशेष फोकस कर काम किया जाएगा। उन्होंने कहा कि बीते सात वर्ष से विकास के लिहाज से देश मे परिवर्तन की लहर चल रही है। कार्यभार ग्रहण करने से पहले भारत के निर्वाचन आयोग के साथ हुई बैठक का हवाला देते हुए नवागत मुख्य सचिव कहा कि कोविड को लेकर निर्वाचन आयोग ने जो चिंता जताई है। उसे देखते हुए टीकाकरण को तेज करने के साथ ही कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से पालन कराया जाएगा। रात्रि कर्फ्यू की कड़ाई से पालन कराया जाएगा।
वरिष्ठ आईएएस अधिकारी दुर्गा शंकर मिश्रा ने आज सुबह कार्यदभार ग्रहण कर लिया। मिश्रा 1984 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। खास बात यह है कि रिटायरमेंट से दो दिन पहले केंद्र सरकार ने प्रदेश के मुख्य सचिव के पद पर उनकी नियुक्ति को हरी झंडी दी है। उन्हें एक वर्ष का सेवा विस्तार भी दिया गया है। मिश्रा की गिनती पीएम नरेंद्र मोदी के भरोसेमंद अफसरों में होती है। 
दरअसल, मौजूदा मुख्य सचिव आरके तिवारी व सरकार के बीच समन्वय की कमी काफी दिनों से चर्चा में थी। ऐसे में मुख्य सचिव को बदले जाने की अटकलें लगती रहीं और इस बार विधानसभा चुनाव के मद्देनजर उन्हें हटाकर भारत सरकार में शहरी विकास मंत्रालय के सचिव मिश्रा को मुख्य सचिव बनाने का फैसला लिया गया। यूपी काडर के आईएएस अधिकारी मिश्रा सोनभद्र व आगरा के डीएम, कानपुर विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष, स्टांप एवं पंजीयन विभाग, खाद्य एवं औषधि प्रशासन, कृषि तथा कृषि शिक्षा एवं अनुसंधान, लघु सिंचाई, मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव समेत कई अहम पदों की जिम्मेदारी निभा चुके हैं। वह केंद्र में शहरी विकास मंत्रालय समेत कई विभागों में तैनात रहे हैं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

यूपी कैबिनेट की बैठक में जौनपुर की इस नगर पालिका के विस्तार का प्रस्ताव स्वीकृत

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर