एक लाख रुपए का इनामी बदमाश मुठभेड़ में हुआ ढेर, दूसरे की तलाश जारी - एसपी जौनपुर



जौनपुर। सरपतहां और एसओजी पुलिस की टीम ने आज सरपतहां थाना क्षेत्र के गैरवा मानपुर गांव में नहर की पुलिया के पास दिन दहाड़े एक मुठभेड़ में एक लाख रुपए के इनामी बदमाश को गोली मार कर घायल करते हुए गिरफ्तार किया और घायल बदमाश को उपचार के लिए जिला अस्पताल भेजा है जहां पर चिकित्सको ने उसे मृत घोषित कर दिया है। 

पुलिस के अनुसार एक -एक लाख रुपए के दो इनामी बदमाशो सतीश कुमार सिंह और प्रिंस सिंह को गैरवा मानपुर गांव में होने की खबर पर पुलिस ने घेराबन्दी कर पकड़ने का प्रयास किया तो बदमाशो ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दिया जिसमें दो पुलिस कर्मी घायल हुए है पुलिस ने जबाबी कार्यवाई की पुलिस की गोली से सतीश कुमार सिंह गम्भीर रूप से घायल हो गया जबकि पुलिस प्रिंस को फरार होना बता रही है। पुलिस के अनुसार बदमाश सतीश कुमार सिंह के सर में पुलिस की गोली लगी है। उपचार हेतु जिला अस्पताल ले गये जहां डाक्टर ने सतीश कुमार सिंह को मृत घोषित किया। 

पुलिस दोनों बदमाशो को थाना सरायख्वाजा क्षेत्र स्थित मनियां गांव का निवासी बता रही है। खबर यह भी है कि कुछ दिवस पूर्व जनपद आजमगढ़ के थाना बरदह क्षेत्र स्थित दुबरा लूट काण्ड में शामिल रहे है। पुलिस दूसरे बदमाश के तलाश का दावा कर रही है इस तरह पुलिस की गोली से एक बदमाश ढेर हो चुका है। पुलिस के सभी अधिकारी घटना स्थल पर पहुंच गये है। 


मृतक बदमाश सतीश सिंह के कब्जे से एके-47, 9 एमएम पिस्टल, भारी मात्रा में कारतूस व मोटरसाइकिल बरामद हुआ है। अभियुक्त सतीश सिंह एक शातिर बदमाश है, यह थाना सरायख्वाजा का हिस्ट्रीशीटर ( हिस्ट्रीशीट संख्या-89 A) और D-63 गैंग का सदस्य है। इस पर दर्जनों हत्या व डकैती के मुक़दमे विभिन्न जनपदो में पंजीकृत हैं। यह हत्या के मामले में आजीवन कारावास का सजायाफ्ता मुल्जिम था। थाना चौबेपुर जनपद वाराणसी से गैंगेंस्टर एक्ट में ग़ाज़ीपुर पेशी के दौरान 2010 में फ़रार हो गया था, जिसमें उस पर 5000 रुपये का ईनाम घोषित किया गया था और तब से पकड़ा नहीं जा सका था। वर्ष 2019 में इसके द्वारा कॉंट्रैक्टर लालजी यादव की दिनदहाड़े गोलियों की बौछार कर स्कोर्पिओ में सनसनीखेज हत्या की गई थी, इस मामले में पुलिस महानिरीक्षक, परिक्षेत्र वाराणसी द्वारा 50000 ईनाम घोषित किया गया है। वर्ष 2020 में आज़मगढ़ के बरदह थाने में सर्राफ़ा व्यापारी की दुकान पर दिन दहाड़े डकैती में वांछित है। इस प्रकरण में पुलिस अधीक्षक आज़मगढ़ द्वारा 25000 का पुरस्कार घोषित किया गया है।


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

अब से राशन मिलना बंद, पूरे 4 महीने के लिए लगी राशन पर रोक, जानें क्या है कारण

पूर्वांचल के रास्ते यूपी में जानें कब प्रवेश कर सकता है मानसून, भीषण गर्मी से मिलेगी निजात

सीएम योगी के एक ट्वीट से लखनऊ का नाम बदलने की सुगबुगाहट, जानें क्या हो सकता है नया नाम