सातवें चरण के लिए प्रचार का शोर थमा लेकिन वोटो के खरीद का खेल शुरू


पूर्वांचल के वाराणसी सहित सोनभद्र, मऊ, गाजीपुर, आजमगढ़, जौनपुर, मीरजापुर, भदोही और चंदौली जिलों में शाम छह बजते ही सातवें और अन्तिम चरण के मतदान के लिए चुनाव प्रचार का शोर थम गया। अंतिम सातवें दौर में पूर्वांचल की कुल 54 विधानसभा सीटों के लिए मतदान आगामी सात मार्च को सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक कुल 11 घंटों तक किया जाएगा। इसके बाद दस मार्च को मतगणना के बाद चुनाव परिणाम जारी किया जाएगा। 

अंतिम दिन चुनाव प्रचार के लिए राजनीतिक दलों की ओर से पूर्वांचल के नौ जिलों में चुनावी सभा और रोड शो के साथ ही जनसंपर्क कर पार्टी उम्‍मीदवारों के पक्ष में नेताओं ने माहौल बनाया। ...और शाम पांच बजे के बाद चुनाव वाले जिलों से बाहरी लोगों की अपने घरों की ओर रवानगी शुरू हो गई। अंतिम चरण के चुनाव प्रचार की समाप्ति के साथ पूर्वांचल में चल रहा सियासी घमासान और चुनावी शोर भी थम गया।
प्रचार का शोर भले ही रूक गया है लेकिन जिला स्तरीय नेताओ द्वारा मतदाताओ के खरीद फरोख्त का खेल बड़ी ही गोपनियता के साथ किये जानें की खबर है। अब देखना है कि आयोग द्वारा लगाये गये प्रेक्षक अथवा सरकारी तंत्र के लोग खरीद फरोख्त पर अंकुश लगाने में सफल होते है या मतदाताओ के खरीददार अपने मिशन में कामयाब रहते है?

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

भाभी को अकेला देख देवर की नियत हुई खराबा, जानें फिर क्या हुआ, पुलिस को तहरीर का इंतजार

घुस लेते लेखपाल रंगेहाथ गिरफ्तार, मुकदमा दर्ज कर एनटी करप्शन टीम ले गयी साथ

सिद्दीकपुर में चला सरकारी बुलडोजर मुक्त हुई 08 करोड़ रुपए मालियत की सरकारी जमीन