राज्य मंत्री के इस्तीफे पर सफाई दे रहे कैबिनेट मंत्री स्वतंत्र देव सिंह तो राज्य मंत्री का आरोप पिछड़ो दलित का हो रहा अपमान


भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और जल शक्ति मंत्री स्वतंत्र देव सिंह अब अपने विभाग के राज्य मंत्री दिनेश खटीक के इस्तीफे के बाद सफाई देने सामने आ गये है। उन्होंने कहा कि उनकी जल शक्ति विभाग के राज्य मंत्री दिनेश खटीक से रोजाना बातचीत होती रहती है, वह नाराज नहीं हैं। उन्होंने खुद इस बात को स्वीकार किया है और अगर कोई बात होगी भी, तो बैठकर सुलझा लिया जाएगा।
विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है, वह इसे तूल देते हुए तिल का ताड़ बना रहा है। यह बातें उन्होंने बुधवार को पत्रकारों से बातचीत में कहीं। उन्होंने कहा कि राज्य मंत्री दिनेश खटीक का पार्टी और सरकार में पूरा सम्मान है। उनकी हर बात को गंभीरता से लिया जाता है। इसके बावजूद अगर कहीं कोई बात है, तो उस पर चर्चा कर ली जाएगी और उसका समाधान निकाल लिया जाएगा।
उन्होंने एक सवाल का जवाब देते हुए कहा कि सपा मुखिया के पास कोई मुद्दा नहीं है। अपने सौ दिनों के कार्यकाल में सरकार ने सफलतापूर्वक तमाम उपलब्धियां दर्ज की हैं। इससे हताश होकर सपा मुखिया मनगढ़ंत आरोप लगा रहे हैं। पार्टी और सरकार में समाज के सभी वर्गों को सम्मान दिया जा रहा है और आगे भी दिया जाता रहेगा।
उन्होंने कहा कि भाजपा सभी वर्गों का प्रतिनिधित्व करती है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मूल मंत्र सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास पर कार्य कर रही है। हमारा उद्देश्य समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के जीवन में खुशहाली लाना है।
दूसरी तरफ योगी आद‍ित्‍यनाथ सरकार में जलशक्ति राज्यमंत्री दिनेश खटीक ने गृहमंत्री भारत सरकार अम‍ित शाह को पत्र ल‍िखकर मंत्री पद से इस्तीफा देते हुए उन्‍होंने खुला आरोप लगाया क‍ि मैं द‍ल‍ित और प‍िछड़ा वर्ग को आगे बढ़ाने के ल‍िए सरकार से जुड़ा था। पर इस सरकार में उन्‍हीं की उपेक्षा हो रही है। दल‍ितों और प‍िछड़ों का अपमान हो रहा है। दल‍ित समाज का राज्‍य मंत्री होने के कारण मेरे क‍िसी भी आदेश पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती है। इसल‍िए मैं अपने पद से इस्‍तीफा दे रहा हूं।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

जौनपुर में आज फिर तड़तड़ायी गोलियां एक की मौत दूसरा घायल पहुंचा अस्पताल,छानबीन मे जुटी पुलिस

बिजली कर्मियों हड़ताल को देख, वितरण व्यवस्था संचालन हेतु नोडल और सेक्टर अधिकारी नियुक्त

जानिए मुर्गा काटने के दुकान से कैसे मिला गुड्डू की लाश,पुलिस कर रही है जांच