सपा से नाराज ओम प्रकाश राजभर का खुला आरोप सपा सरकार में गुण्डे मांगते है गुण्डा टैक्स

 

जौनपुर।सपा-सुभासपा गठबंधन टूटने की घोषणा भले ही नहीं हुई है, लेकिन इन दोनों दलों के बीच टिप्पणियां दिन ब दिन तल्ख होती जा रही हैं। प्रदेश सरकार के मंत्री के इस्तीफे के बाद सपा मुखिया अखिलेश यादव की टिप्पणी पर पलटवार करते सुभासपा मुखिया ओम प्रकाश राजभर ने उन्हें आईना दिखाया। लखनऊ से गाजीपुर जाते समय बुधवार को दोपहर में नगर के पचहटिया तिराहे पर मीडिया से बातचीत में कहा कि अखिलेश यादव जो टिप्पणी कर रहे हैं वह गलत है। पहले वह अपने सरकार में ही देखें। मैं आजमगढ़ चुनाव के दौरान जब लोगों से वोट मांगने गया तो मतदाताओं ने कहा कि किस आधार पर हम सपा को वोट दें। सपा सरकार में गुंडे आकर पैसे मांगते थे, गुंडा टैक्स लेते थे। जहां होता था वहीं जमीन पर कब्जा कर लेते थे। कम से कम अब तो राहत है। ओम प्रकाश राजभर ने तंज कसते कहा कि एसी से राजनीति नहीं चलेगी। एसी से राजनीति करने वाली कांग्रेस व बसपा के हाल को देखिए कि आज उनके एक-दो एमएलए ही बचे हैं। एक जवाब में उन्होंने कहा कि केंद्र व राज्य में गठबंधन की ही सरकारें चल रही हैं। 2024 में नई संभावनाओं के इंतजार के साथ अखिलेश से तलाक का भी इंतजार है। बसपा से गठबंधन व भाजपा की बी टीम कहे जाने के सवाल पर कहा कि हर हारने वाली पार्टी बी टीम होती है। एसी में बैठकर राजनीति करने वाले अखिलेश यादव को जनता का दुख-दर्द क्या मालूम होगा। राष्ट्रपति चुनाव के संबंध में अपने स्टैंड पर उन्होंने कहा कि मैंने राष्ट्रपति चुनाव में द्रौपदी मुर्मू को वोट इसलिए दिया कि विपक्षी पार्टी के लोग न ही मुझसे वोट मांगे और न ही विपक्षी पार्टी के प्रत्याशी यशवंत सिन्हा ने ही मुझसे वोट मांगा। सपा से गठबंधन के सवाल पर कहा कि अभी मेरा गठबंधन सपा से है। अखिलेश अगर तलाक देते हैं तब गठबंधन टूटेगा। इनदिनों चर्चा में बने लुलु माल के सवाल पर कहा कि उससे काफी लोगों को रोजगार मिला है। भाजपा को जनता के समर्थन के सवाल पर कहा कि जनता आज भी परेशान है, लेकिन कम से कम उनको खाने को राशन तो मिल रहा है। इसके बाद ओम प्रकाश राजभर चंदवक होते हुए गाजीपुर चले गए।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

यूपी कैबिनेट की बैठक में जौनपुर की इस नगर पालिका के विस्तार का प्रस्ताव स्वीकृत

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर