पुलिस के साथ बदमाशो की मुठभेड़,पैर में लगी गोली, दो बदमाश गिरफ्तार विधिक कार्यवाई के बाद पहुंचे सलाखों के पीछे


जौनपुर। जनपद के थाना रामपुर क्षेत्र स्थित कोटिगांव स्थित नहर की पुलिया के पास थाना पुलिस रामपुर एवं बक्सा  तथा एस0ओ0जी0 व सर्विलांस की संयुक्त टीम के साथ हुई पुलिस मुठभेड़ में शातिर लुटेरे एवं अपहरणकर्ता टीम के दो सदस्य गिरफ्तार किया गया है। घायल, दोनो के पैर में गोली लगी है। बदमाशो के कब्जे से तमंचा कारतूस लूट की घटना में प्रयुक्त मोटर साइकिल व लूट के नकदी सामान बरामद करने के बाद विधिक कार्यवाई करते हुए जेल पुलिस के हवाले कर दिया गया है।
पुलिस द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार पुलिस अधीक्षक डॉ0 अजयपाल शर्मा के निर्देश पर अपराध और अपराधियों पर नियंत्रण के लिए चलाये जा रहे अभियान के तहत थानाध्यक्ष रामपुर मय हमराह गोपालापुर मोड़ पर संदिग्ध व्यक्तियों और वाहनों की चेकिंग कर रहे थे।उसी समय प्रभारी एसओजी प्रभारी सर्वीलान्स व थानाध्यक्ष बक्सा टीम के साथ आये और अपराध व अपराधियो के रोकथाम के सम्बन्ध में आपस मे चर्चा की जा रही थी उसी समय मुखबिर खास से सूचना मिली शातिर लुटेरे एवं अपहरणकर्ता टीम के दो बदमाश कसेरू बाजार की तरफ से रामपुर बाजार होते हुए जौनपुर मुख्यालय जाने वाले हैं। इस सूचना पर पुलिस टीम कोटिगांव नहर पुलिया के पास पहुँची। कुछ देर बाद एक मोटरसाइकिल पर दो सवार व्यक्ति कसेरू बाजार से रामपुर बाजार की ओर आते हुए दिखाई दिये जिन्हे रूकने का इशारा किया गया तो बदमाश अपनी मोटरसाइकिल तेजी से चलाते हुए भागने लगे और हड़बड़ाहट में गिर गये। मोटरसाइकिल सवार दोनो व्यक्ति जान से मारने की नियत से पुलिस टीम पर फायर करने लगे, जिससे एक गोली थानाध्यक्ष रामपुर के बुलेट फ्रूफ जैकेट पर लगी तथा एक गोली थानाध्यक्ष बक्सा के बगल से निकल गयी। पुलिस टीम द्वारा बदमाशों का पीछा किया गया। आत्मरक्षार्थ चेतावनी देते हुए पुलिस टीम द्वारा फायर किया गया जिससे बदमाश घायल होकर गिरे पड़े थे। घायल बदमाशो से नाम पता पूछा गया तो अपना नाम विनोद यादव पुत्र रमेश यादव ग्राम सिरौली थाना रामपुर जनपद जौनपुर व दूसरे ने अपना नाम रूस्तम अंसारी पुत्र मोहम्मद मुस्लिम अंसारी निवासी सहाबुद्दीनपुर थाना गौराबादशाहपुर जनपद जौनपुर  बताया। दोनो के पास से तमंचा कारतूस, घटना में लूट में प्रयुक्त मोटर साइकिल, लूट की नकदी बरामद हुई। घायल बदमाशों को उपचार हेतु अस्पताल में भर्ती कराया गया है। गिरफ्तारी बरामदगी के आधार पर अभियुक्तों के विरुद्ध थाना रामपुर में मु0अ0सं0-28/23 धारा-307/411 भादवि व मु0अ0स  29/23 एवं 30/23 धारा 3/25 आर्मस एक्ट  पंजीकृत कर आवश्यक विधिक कार्यवाही की गयी। 
पुलिस अभिलेख के अनुसार दोंनो बदमाशो का बड़ा अपराधिक इतिहास है 1. रूस्तम अंसारी पुत्र मोहम्मद मुस्लिम अंसारी निवासी सहाबुद्दीनपुर थाना गौराबादशाहपुर जनपद जौनपुर उम्र करीब 30 वर्ष के उपर एक दर्जन से अधिक मुकदमें है।1.मु0अ0सं0-22/23 धारा-323/365/395/504/506 आईपीसी थाना रामपुर जौनपुर ।2.मु0अ0सं0-25/23 धारा-411/413/414/420/467/468/471 व 120बी भादवि थाना रामपुर जनपद जौनपुर 3. मु0अ0सं0-28/23 धारा-307/411 आईपीसी थाना रामपुर जनपद जौनपुर 4. मु0अ0सं0-30/23 धारा-3/25 आर्मस एक्ट थाना रामपुर जौनपुर । 5. मु0अ0सं0 287/18 धारा-147/148/149/295/323/504/506 भादवि थाना केराकत जौनपुर । 6. मु0अ0सं0 316/18 धारा -356/411भादवि थाना केराकत जौनपुर।7.मु0अ0सं0 330/18 धारा –411/413/414/419/420/467/468/471 भादवि थाना केराकत जौनपुर 8.  मु0अ0सं0 332/18 धारा – 27 आर्मस एक्ट थाना केराकत जौनपुर ।9.मु0अ0सं0 265/19 धारा-392/411 भादवि थाना मड़ियाहूँ जौनपुर ।10. मु0अ0सं0 274/19 धारा -379/411 भादवि थाना मड़ियाहूँ ।11.मु0अ0सं0 276/19 धारा -411/413/414 भादवि थाना मड़ियाहूँ ।12.मु0अ0सं0 129/18 धारा-419/420 थाना सरपतहां जौनपुर ।13. मु0अ0सं0 292/18 धारा – 380/411/457 भादवि थाना सरायख्वाजा जौनपुर
इसी तरह गिरफ्तार बदमाश विनोद यादव पुत्र रमेश यादव ग्राम सिरौली थाना रामपुर जनपद जौनपुर उम्र करीब 24 वर्ष के खिलाफ 04 अपराधिक मामले है।1.मु0अ0सं0-22/23 धारा-323/365/395/504/506 आईपीसी थाना रामपुर जौनपुर।2.मु0अ0सं0-25/23 धारा-411/413/414/420/467/468/471 व 120बी भादवि थाना रामपुर जनपद जौनपुर 3.मु0अ0सं0-28/23 धारा-307/411 आईपीसी थाना रामपुर जनपद जौनपुर। 4. मु0अ0सं0-29/23 धारा-3/25 आर्मस एक्ट थाना रामपुर जौनपुर में दर्ज है।

Comments

Popular posts from this blog

भीषण दुर्घटना एक परिवार के आठ सदस्यो की दर्दनाक मौत, पुलिस ने किया विधिक कार्यवाई, इलाके में कोहराम

जौनपुरिया दूल्हा स्टेज पर पिया गांजा तो दुल्हन ने किया शादी से इन्कार,पुलिसिया हस्तक्षेप के बाद बगैर दुल्हन के लौटे बाराती

एक लाख रुपए घूस लेते हुए लेखपाल चढ़ा एन्टी करप्शन टीम के हाथ पहुंच गया सलाखों के पीछे जेल