सपा की बैठक में प्रदेश पदाधिकारियों का स्वागत, वोटर लिस्ट पर जोर,कुछ नेताओ की वायस वायरल क्यों नहीं


जौनपुर। सपा नेता एवं निर्वतमान अध्यक्ष डाॅ अवधनाथ पाल ने शनिवार को आयोजित मासिक बैठक में पार्टी के प्रदेश कमेटी में नवनियुक्त पदाधिकारी का किया जिसमें पूर्व एमएलसी लल्लन प्रसाद यादव सहित राजेश यादव, शुशील दूबे, लकी त्रिपाठी, राजकुमार सरोज, श्याम प्रकाश सरोज,राजकुमार सरोज का  नाम शामिल है जिन्हे माल्यार्पित  किया गया।
बैठक में डाॅ अवधनाथ पाल ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने जितने भी साथी को संगठन में जिम्मेदारी दी है निश्चित रूप समाजवादी पार्टी को मजबूत करने का काम करेंगे। सभी को अपने वोटर लिस्ट को देखते रहना चाहिए क्यों कि पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा ने साजिश और षड्यंत्र करके बड़े पैमाने पर समाजवादी पार्टी समर्थकों के वोट कटवा दिए और बेईमानी करके चुनाव जीता था। समाजवादी पार्टी ने इसकी शिकायत भी की लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। भाजपा सत्ता में बने रहने के लिए संवैधानिक संस्थाओं की स्वतंत्रता को प्रभावित कर रही है। भाजपा लोकतंत्र और संविधान को कमजोर कर रही है।
भाजपा सरकार इंडिया गठबंधन और पीडीए की एकजुटता से परेशान और डरी हुई है। मतदाता सूची में धांधली पर ही उसका भरोसा रह गया है। फर्जी मतदान के सहारे वह चुनाव जीतने की साजिश कर रही है। और मतदाता सूची में बडें पैमाने  पर गड़बड़ियां करने का काम कराते आ रहे है तो पूरे प्रदेश में मतदान के समय क्या स्थिति होगी, इसका अनुमान नहीं लगाया जा सकता है। ऐसे में लोकतांत्रिक प्रणाली पर प्रश्नचिह्न लगना स्वाभाविक है।
बैठक में मुख्य रूप से पूर्व विधायक लालबहादुर यादव, राजबहादुर यादव राहुल त्रिपाठी, हिरालाल विश्कर्मा, इर्शाद मंसूरी, संजय सरोज, राजकुमार बिन्द, साजिद अलीम, मेवालाल गौतम, दिनेश फौजी, अजमत अली,सोचनराम विश्कर्मा, रामू मौर्य, सूर्यभान यादव,राम इकबाल यादव,अनील दूबे, डां जग बहादुर यादव कमाल आजमी,देवमणि यादव,राजेन्द्र यादव, लक्ष्मी शंकर यादव,आदि बैठक में भाग लिया और अपने विचार रखे, संचालन राजेन्द्र टाइगर ने किया। हलांकि बैठक में और नेताओ ने क्या कहा इसका जिक्र पार्टी के जिम्मेदारो ने करना उचित नहीं समझा जो संकेत करता है कि पार्टी के अन्दर जिले में सबकुछ ठीक नहीं चल रहा है। जिसे राजनैतिक समीक्षक पार्टी हित के लिए धातक मान जा रहे है।

Comments

Popular posts from this blog

जौनपुर में चुनावी तापमान बढ़ाने आ रहे है सपा भाजपा और बसपा के ये नेतागण, जाने सभी का कार्यक्रम

अटाला मस्जिद का मुद्दा भी अब पहुंचा न्यायालय की चौखट पर,अटाला माता का मन्दिर बताते हुए परिवाद हुआ दाखिल

मछलीशहर (सु) लोकसभा में सवर्ण मतदाताओ की नाराजगी भाजपा के लिए बनी बड़ी समस्या,क्या होगा परिणाम?