शौचालय निर्माण में बड़ा चोटाला जांच शुरू घोटालेबाज के खिलाफ कार्रवाई संभव


जौनपुर। प्रदेश एवं देश की सरकारो ने गांवों को ओडीएफ कर स्वच्छता बढ़ाने के उद्देश्य से स्वच्छ भारत मिशन योजना शुरू किया इसके क्रियान्वयन से कई गांवों की स्थिति भले ही सुधर गयी हो लेकिन कुछ गांवों में शौचालय को लेकर ग्राम प्रधानों और सचिवों के कारण खूब घोटाले हुए है। जी हां उदाहरण के तौर पर ताजा मामला जनपद जौनपुर स्थित सुजानगंज के बारा ग्राम पंचायत का है। यहां एक ही परिवार में तीन शौचालय दे दिए गए। पत्नी के नाम दो और पति को एक शौचालय दे दिया गया।
फरवरी 2023 में ग्राम पंचायत बारा निवासी अवधेश कुमार मौर्य ने शिकायत की थी। 50 से अधिक बिंदुओं पर की गई शिकायत में उन्होंने शौचालय निर्माण के नाम पर घोटाले का आरोप लगाया। इस मुद्दे को लेकर  न्यायालय में भी एक याचिका दाखिल की। उस आधार पर जिला प्रशासन ने मामले की जांच कराई। इस दौरान जब शौचालयों के आवंटन की पड़ताल होने लगी तो चौंकाने वाले मामले सामने आने लगे। 40 लोग ऐसे मिले, जिनके नाम पर एक से अधिक शौचालय जारी किए गए थे। 10 ऐसे व्यक्ति मिले, जो सरकारी कर्मचारी हैं। बावजूद इसके उन्हें व्यक्तिगत शौचालय का लाभ देते हुए धनराशि दी गई।
शौचालय निर्माण में किस तरह की धांधली की जाती है, इसका अंदाजा बारा ग्राम पंचायत में दिए गए शौचालयों को देखकर लगाया जा सकता है। यहां मोतीलाल के पुत्र अनिल कुमार के नाम दो-दो बार शौचालय दिया जाना दिखाया गया। इसी तरह अबरार के नाम में स्पेलिंग बदलकर दो बार लाभ दे दिया गया। भरत लाल की पत्नी के नाम पर दो बार और भरत लाल के नाम पर एक बार शौचालय दिया गया है। अरुण कुमार की पत्नी के नाम पर भी तीन शौचालय जारी किए गए हैं। कुछ लोग, जिन्होंने व्यक्तिगत शौचालय खुद से बनवाया, उनके नाम पर भी शौचालय जारी कर दिया गया।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र