पीयू में फंक्शनल मटेरियल पर आयोजित अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में जुटेंगे देश- विदेश के वैज्ञानिक


सम्मेलन के लिए पीयू को सर्ब, डीबीटी, डीआरडीओ, सीएसआईआर से मिला अनुदान

जौनपुर।वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के रज्जू भैया संस्थान द्वारा फंक्शनल मटेरियल विषय पर अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन 8 से 10 फरवरी 2024 को किया जा रहा है। यह सम्मेलन एशियन पॉलीमर एसोसिएशन के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित हो रहा है। फंक्शनल मटेरियल एक बहुआयामी पदार्थ है जिसे विभिन्न अनुप्रयोगों के लिए बनाया जाता है। फंक्शनल मैटेरियल इंजीनियरिंग, मेडिसिन, स्पेस व कई अन्य क्षेत्रों में  महत्त्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है।
 अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के संयोजक तथा रज्जू भैया संस्थान के निदेशक डॉ. प्रमोद कुमार यादव ने बताया कि 8 फरवरी से प्रारंभ होने वाले तीन दिवसीय सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में मुख्य अतिथि डीएमएसआरडीई, डीआरडीओ कानपुर के निदेशक डॉ मयंक द्विवेदी हैं तथा विशिष्ट अतिथि राजर्षि जनक विश्वविद्यालय, नेपाल के कुलपति प्रो. अमर प्रसाद यादव, वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो. राजाराम यादव तथा दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. पूनम टंडन होंगी। उद्घाटन सत्र की अध्यक्षता वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. वंदना सिंह करेंगी।
सम्मेलन के आयोजन सचिव डॉ. नितेश जायसवाल ने बताया कि इस सम्मेलन में 70 से अधिक आमंत्रित वक्ताओं को व्याख्यान देने के लिए आमंत्रित किया गया है। इस सम्मेलन में भारत सहित विभिन्न देशों के कुल 300 से अधिक शोधार्थियों ने प्रतिभाग करने के लिए पंजीकरण किया है। 240 शोधार्थियों ने अपने शोध कार्यों के सारांश को प्रस्तुत करने के लिए भेजा है।

सम्मेलन के कोषाध्यक्ष डॉ. सुजीत कुमार चौरसिया ने बताया कि पूर्वांचल विश्वविद्यालय तथा भारत सरकार की चार वैज्ञानिक संस्थाओं के वित्तीय सहयोग से यह सम्मेलन आयोजित किया जा रहा है। भारत सरकार का जैव प्रौद्योगिकी विभाग (डीबीटी), विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय,  साइंस एंड इंजीनियरिंग रिसर्च बोर्ड (सर्ब),  विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग, रक्षा एवं विकास अनुसंधान संगठन (डीआरडीओ), रक्षा मंत्रालय, तथा वैज्ञानिक एवं औद्योगिक की अनुसंधान परिषद  (सीएसआईआर) इस सम्मेलन के सहयोगी है।

Comments

Popular posts from this blog

जिले के पांच प्राथमिक विद्यालयो के औचक निरीक्षण में तीन विद्यालय के मास्टरो को मिली कारण बताओ नोटिस, रोका गया वेतन

स्कूल के आफिस में प्रिसिंपल और टीचर की अश्लील हरकते हुई वायरल,पुलिस क्यों है बेखबर?

परिषदीय विद्यालयो में डिजिटल उपस्थित का शिक्षको के विरोध के बीच अब सीएम योगी का दखल,जानिए जिम्मेदारो को क्या मिला आदेश