शैक्षिक सत्र शुरू होते ही बीएसए का निरीक्षण अभियान शुरू, जानें कहां के शिक्षको का वेतन रोका गया और किससे मांगा स्पष्टीकरण

जौनपुर। जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डा0 गोरखनाथ पटेल द्वारा मंगलवार को विकास खण्ड करंजाकला एवं बक्शा के परिषदीय विद्यालयों का निरीक्षण करते हुये विद्यालयों की भौतिक अवस्थापना सुविधाओं एवं छात्रों के अधिगम स्तर की जाँच की गयी।

जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी के नंबर पर लगातार प्राप्त हो रही शिकायत के क्रम में बीएसए द्वारा विकास खण्ड करंजाकला के कंपोजिट विद्यालय बैजापुर का औचक निरीक्षण पूर्वान्ह 10.30 पर किया गया। विद्यालय में कार्यरत सहायक अध्यापिका मधुलिका सिंह के बिना किसी पूर्व सूचना के विद्यालय में अनुपस्थित पाए जाने के कारण जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा सहायक अध्यापिका का अग्रिम आदेश तक वेतन बाधित कर दिया गया।


गत शैक्षिक सत्र 2023-24 में विद्यालय को प्राप्त कंपोजिट धनराशि 75000 के सापेक्ष संपूर्ण धनराशि व्यय की हुई प्राप्त हुई। विद्यालय में रंगाई पुताई का कार्य गतिमान अवलोकित हुआ। विद्यालय प्रांगण में स्थित आंगनबाड़ी केंद्र बंद पाया गया। आंगनबाड़ी केंद्र बंद पाए जाने पर आंगनबाड़ी कार्यकत्री के विरुद्ध जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा जिला परियोजना अधिकारी को आवश्यक कार्यवाही किए जाने हेतु अनुरोध किया गया। विद्यालय प्रांगण साफ-सुथरा नहीं पाए जाने पर बीएसए द्वारा प्रधानाध्यापक को सफाई कर्मी से समन्वय स्थापित करते हुए विद्यालय की साफ-सफाई कराए जाने हेतु दिशा निर्देश निर्गत किए गए। विद्यालय में अध्ययनरत कक्षा 6, 7, 8 के समस्त छात्र एक ही कक्षा में बैठे हुए प्राप्त हुए। कक्षा 6 के तीन छात्रों से विद्यालय का नाम लिखाए जाने पर सिर्फ एक छात्र द्वारा ही विद्यालय का सही-सही नाम लिखा जा सका। छात्रों का अधिगम स्तर न्यून पाए जाने के कारण उच्च प्राथमिक स्तर के शिक्षकों को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा शिक्षा व्यवस्था में सुधार किए जाने हेतु निर्देश निर्गत किए गए।
विकास खंड करंजाकला के प्राथमिक विद्यालय करसावां का स्थलीय निरीक्षण जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा पूर्वाह्न 11.00 बजे किया गया। विद्यालय के कक्षा कक्ष झाले युक्त एवं फर्श की टाइल्स उखड़ी हुई पाए जाने पर बीएसए द्वारा विद्यालय में प्राप्त कमियों को दुरुस्त किए जाने हेतु प्रधानाध्यापक को निर्देशित किया गया। निरीक्षण के अगले चरण में जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा विकासखंड बक्शा के प्राथमिक विद्यालय सुल्तानपुर का स्थलीय निरीक्षण पूर्वाह्न 11.30 पर किया गया। मध्यान्ह भोजन पंजिका में लाभार्थी छात्रों का विवरण 01 अप्रैल 2024 से निरीक्षण तिथि तक अद्यतन नहीं किया गया प्राप्त हुआ। विद्यालय में नामांकित 128 छात्रों के सापेक्ष सिर्फ 76 छात्र उपस्थित पाये गए। जबकि गत तीन कार्य दिवसों में उपस्थित छात्रों की संख्या विद्यालय द्वारा अधिकतम दर्ज की गई प्राप्त हुई। विद्यालय में प्राप्त कमियों के परिणाम स्वरूप जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल द्वारा प्रधानाध्यापक पर कार्यवाही करते हुए विद्यालय में कार्यरत समस्त शिक्षकों को स्पष्टीकरण निर्गत किया गया।
तत्पश्चात प्राथमिक विद्यालय मई, का निरीक्षण बीएसए द्वारा किया गया। विद्यालय में नामांकित 92 छात्रों के सापेक्ष सिर्फ 57 छात्र विद्यालय में उपस्थित पाए गए। जबकि गत तीन कार्य दिवसों में छात्रों की उपस्थिति भौतिक उपस्थिति के सापेक्ष अधिक दर्ज एवं विद्यालय प्रांगण एवं कक्षा कक्ष साफ सुथरा नहीं पाए जाने पर संबंधित विद्यालय के प्रधानाध्यापक सहित समस्त कार्यरत शिक्षकों को बीएसए द्वारा स्पष्टीकरण निर्गत किया गया।
विकास खंड बक्शा के प्राथमिक विद्यालय के केवटली का स्थलीय निरीक्षण जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा अपरान्ह् 12.20 पर किया गया। विद्यालय की छात्र उपस्थिति पंजिका में कक्षा 1 व 4 के छात्रों की अनुपस्थिति विद्यालय द्वारा दर्ज न की हुई प्राप्त हुई। विद्यालय में प्रधानमंत्री पोषण अभियान के अंतर्गत मध्यान भोजन बना हुआ नहीं प्राप्त हुआ। विद्यालय द्वारा अपरान्ह् 12.20 पर ही छात्रों का मध्यावकाश किया गया प्राप्त हुआ। विद्यालय में कार्यरत सहायक अध्यापक आलोक मौर्य एवं शिक्षामित्र ममता यादव विद्यालय परिसर के बाहर गए हुए पाए गए। विद्यालय में प्राप्त उपरोक्त गंभीर कमियों के कारण जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल द्वारा विद्यालय में कार्यरत समस्त शिक्षकों का अग्रिम आदेश तक वेतन अवरुद्ध करते हुए कार्यवाही की गई।
निरीक्षण के अंतिम चरण में विकास खंड बक्शा के प्राथमिक विद्यालय भटपुरा का निरीक्षण जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी डॉ0 गोरखनाथ पटेल द्वारा अपरान्ह् 12.50 पर किया गया। विद्यालय में छात्रों का अधिगम स्तर संतोषजनक एवं विद्यालय की समस्त व्यवस्थाएं नियमानुसार पाए जाने पर जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी द्वारा विद्यालय में कार्यरत प्रधानाध्यापक सहित समस्त स्टाफ की प्रशंसा करते हुए विभागीय कार्यों को समयबद्ध रूप से पूर्ण किए जाने हेतु दिशा-निर्देश निर्गत किए गए।

Comments

Popular posts from this blog

बाहुबली नेता एवं पूर्व विधायक के परिवार जनों पर फिर मारपीट और छेड़खानी का मुकदमा हुआ दर्ज, पुलिस जांच पड़ताल में जुटी

सपा ने जारी किया सात लोकसभा के लिए प्रत्याशियों की सूची,जौनपुर से मौर्य समाज पर दांव,बाबू सिंह कुशवाहा प्रत्याशी घोषित देखे सूची

भाजपा के प्रत्यशियो की दसवीं सूची जारी, मछलीशहर से भी प्रत्याशी घोषित देखे सूची