कोरोना संक्रमण के लिए चीन एवं डब्लू एच ओ के खिलाफ याचिका दायर हो



      जौनपुर । भारत सहित पूरी दुनियां में कोरोना वायरस को फैलाने के लिए चीन एवं डब्लू एच ओ के डायरेक्टर जनरल  को जिम्मेदार मानते हुए  जनपद की अधिवक्ता आभा सिंह ने सेक्रेटरी जनरल युनाइटेड नेशन एंटानियो गुटरेस को पत्र भेज कर चीनी एवं डायरेक्टर जनरल डब्लू एच ओ के खिलाफ याचिका दायर करने की अपील किया है। 
अधिवक्ता ने अपने पत्र में कहा है कि पूरे विश्व में फैली कोरोना महामारी से भारी संख्या में मौतें हुई है साथ ही भारी आर्थिक क्षति हुई है इस लिए इस धन जन क्षति के लिए चीन एवं डब्लू एच ओ के डायरेक्टर जनरल जिम्मेदार है इस लिए इसका हर्जाना इनसे वसूला जाना चाहिए। 
जनपद जौनपुर के तहसील मड़ियाहू क्षेत्र स्थित जौंसीपुर निवासी अधिवक्ता आभा सिंह ने अपने पत्र में यह भी कहा है कि कोरोना संक्रमण के लिए चीन के साथ ही डब्लू एच ओ के डायरेक्टर जनरल के खिलाफ कार्यवाही इस लिए जरूरी है क्योंकि उनके स्तर से इस महामारी को बताने में देरी किया है। जब चीन में 17 नवम्बर 2019 को इस महामारी से ग्रसित पहला केस मिला था तो इसे क्यों छिपाये रखा था। यही नहीं 2005 में  जारी इन्टरनेशनल रेगुलेशन एक्ट के तहत कोई आपदा किसी देश के अन्दर आती है तो उसे 24 घंटे के अंदर डब्लू एच ओ को बताया जाना चाहिए लेकिन ऐसा नहीं किया गया।  मामले में ताइवान ने बताया था कि 31 दिसम्बर 2019 को कोरोना नामक महामारी चीनी में आ गयी है। डब्लू एच ओ ने इसे मानने से इनकार क्यों किया। बाद में डब्लू एच ओ ने 12 मार्च 2020 को इसे वैश्विक आपदा घोषित किया गया। 
इससे पूरे विश्व की इकोनोमी को भारी क्षति हुई है साथ ही लाखों लोगों की असामयिक मौतें हो गयी है। इसका पूरा हर्जाना चीन से वसूला जाना चाहिए साथ ही डब्लू एच ओ के डायरेक्टर जनरल को तत्काल बर्खास्त किया जाना चाहिए। भेजे गये पत्र के जबाब में सेक्रेटरी जनरल युनाइटेड नेशन एंटानियो गुटरेस ने कहा है कि इसे भारत सरकार की ओर से भेजा जाना चाहिए। अधिवक्ता आभा सिंह का कथन है कि इस बिषय पर प्रधानमंत्री जी से बात करने का प्रयास किया जा रहा है।

Comments

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

एंटी करप्शन टीम के हत्थे चढ़ा चपरासी ढाई लाख रुपए घूस ले रहा था चपरासी सहित एसीओ के खिलाफ मुकदमा दर्ज

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद