प्रतिबंध के बाद लाक डाऊन में शराब बेचते माल सहित भाजपा नेता गिरफ्तार



    जौनपुर। कोरोना संक्रमण के चलते पूरे देश में लाक डाऊन घोषित होने के बाद  एक तरफ तो सरकार शराब की दुकानों को बन्द करने का फरमान जारी किया है। वहीं भाजपा के ही नेता शासनदेश का उल्लंघन कर रहे हैं। जी हां आज थाना कोतवाली क्षेत्र स्थित केसरी बजार पंजाबी मार्केट से आज कोतवाली पुलिस एवं अबकारी अधिकारी की संयुक्त टीम ने लाक डाऊन का उल्लंघन करते हुए शराब बेचते भाजपा नेता मनीष सेठी को पत्नी बेटा के साथ गिरफ्तार करते हुए भारी मात्रा में  अंग्रेजी शराब भी बरामद किया है। जो उपरोक्त बातों की पुष्टि करता है। 
हलांकि अब भाजपा के कई नेता शराब बेचते पकड़े गये भाजपा नेता को बचाने में जी जान से जुटे हैं। 
बतादे की कोरोना के चलते  लाक डाऊन घोषित  होने के साथ ही शासन ने शराब की बिक्री पर पूर्णतः प्रतिबंध लगा दिया है  इसके बाद भी भाजपा नेता मनीष सेठी पुलिस की सह पर शराब बेचने का धन्धा जारी रखा था।  इसकी शिकायत लगातार स्थानीय व्यापारी कोतवाली पुलिस एवं अबकारी विभाग में किया लेकिन भाजपा नेता के गिरेबान में हाथ डालने का साहस नहीं जुटा पा रहे थे।  क्योंकि मनीष सेठी भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा का जिला महामंत्री है। 
थक हार कर स्थानीय व्यापारीयो  ने  अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व राम प्रकाश के पास शराब बेचे जाने की शिकायत किया।  एडीएम ने इसे गम्भीरता से लेते हुए अबकारी अधिकारी एवं कोतवाली पुलिस को शक्त आदेश दिया कि किसी भी दशा में यदि शराब बेची जा रही है तो कार्यवाही किया जाये।  इसके बाद अबकारी अधिकारी एवं कोतवाली पुलिस की संयुक्त टीम ने कसेरी बाजर के पास पंजाबी मार्केट में मनीष सेठी के घर पर छापा मारा तो वहां से शराब बेचते हुए खुद मनीष सेठी एवं उनकी पत्नी छाया सेठी  तथा पुत्र आनन्द सेठी को गिरफ्तार कर लिया और तीन पेटी अंग्रेजी शराब बरामद करते हुए माल सहित सभी को थाने ले गये। 
भाजपा नेता को गिरफ्तार होने की खबर चर्चा में आते ही भाजपा के कई नेता उसके बचाव में सक्रिय हो गये है।  नेताओं के दबाव में पुलिस द्वारा  लीपा पोती की संभावना व्यक्त की जा रही है। 
एक खबर के अनुसार जिस स्थान पर अंग्रेजी शराब बेची जा रही थी उसके नीचे गुरु सिंह सभा के बैनर तले लंगर चलाया जा रहा था ताकि सरकारी तंत्र को शक न हो सके। स्थानीय व्यापारीयो  की माने तो मनीष सेठी को पुलिस का संरक्षण प्राप्त था। जो भी हो इस भाजपा नेता द्वारा शासन के आदेश का उल्लंघन करते हुए लाक डाऊन अवधि में शराब बेचने का अपराध किया जाता रहा है।

Comments

  1. इसीलिए योगी सरकार ने लाकडाउन-2 के दौरान शराब की दुकानें खोलने की इजाजत दे दिया है। (दैनिक जागरण 12-04-2020 के अनुसार)

    ReplyDelete

Post a Comment

Popular posts from this blog

पुलिस प्रशासन और दीवानी न्यायालय के न्यायिक अधिकारियों के बीच छिड़ी जंग, न्यायाधीश हुए सुरक्षा विहीन

मछलीशहर (सु) संसदीय क्षेत्र से सांसद बनने के लिए दावेदारो की जाने क्या है स्थित, कौन होगा पार्टी के लिए फायदेमंद