आरोप: भाजपा के लिए देश हित नहीं बल्कि सत्ता हित सर्वोच्च है - प्रमोद तिवारी


लखनऊ:  कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रमोद तिवारी ने कहा जब देश कोरोना से लड़ रहा है तो केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह राज्यों से सामंजस्य बनाने की बजाए बिहार में चुनावी रैली को सम्बोधित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट के बावजूद शाह की वर्चुअल रैली की शुरूआत से यह फिर साबित हो गया है कि भाजपा के लिए देशहित नहीं बल्कि सत्ता हित ही सर्वोच्च है।

कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा के लोग दूसरों को कोरोना काल में राजनीति न करने को कहते हैं और स्वयं घटिया राजनीति करते हैं। उन्होंने गृहमंत्री शाह से सवाल किया कि अभी तक ‘‘कोरोना से देश जीतेगा’’ का नारा लगाया जा रहा था और अब राज्यों में होने वाले चुनावों को लेकर बहुमत की सरकार का दावा कैसे पेश किया जा रहा है। कांग्रेस नेता ने सोमवार को बयान जारी कर कहा कि कोरोना महामारी में लाकडाउन को लेकर प्रधानमंत्री के गलत समय पर लिए गए गलत फैसले की कीमत आज पूरा देश चुका रहा है। देश में लॉकडाउन प्रारम्भ होने के समय जहां भारत दुनिया के अन्य देशों की तुलना में सबसे पीछे था।

वहीं आज दुनिया के संक्रमित देशों में 5वें नंबर पर पहुंच गया है। और गम्भीर रूप से संक्रमित मरीजों में अमेरिका, ब्राजील और रूस के बाद भारत चौथे नंबर पर है। तथा क्रिटिकल संक्रमित मरीजों में अमेरिका के बाद दूसरे नंबर पर पहुंच गया है। कांग्रेस नेता तिवारी ने कहा है कि दुनिया के अन्य देशों ने लॉकडाउन तब खोला था जब कोरोना संक्रमितों की संख्या घट रही थी और भारत में लॉकडाउन तब खोला गया जब कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ रही है। आज जब 2 दिनों में लगभग 25000 संक्रमित बढ़ रहे हैं तो उस समय लॉकडाउन खोलना एक खतरनाक और समझ में न आने वाला तथा पूरे देश के जनसामान्य के जीवन को खतरे में डालने वाला निर्णय है।

कांग्रेस के दिग्गज नेता श्री तिवारी ने कहा है कि देश के इतिहास का जब आकलन किया जायेगा तो मोदी जी की यह भूल ‘हिमालयन ब्लण्डर’ कहलाएगी। और देश को उनके अदूरदर्शी नेतृत्तव के कारण भयंकर पीड़ा और जनहानि का जिम्मेदार माना जाएगा। आने वाली पीढ़ियां उन्हें कभी माफ नहीं करेंगी।

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी की गलत नीतियों ने आज देश को आर्थिक तबाही और बर्बादी में पहुंचा दिया है। देश की जीडीपी 3.1 प्रतिशत पर है जो दशकों के निम्नतर स्तर पर आ गयी है। इसमें कोविड- 19 के लॉकडाउन का केवल एक सप्ताह ही शामिल हैं। कांग्रेस नेता ने कहा कि लॉकडाउन का असर इस तिमाही पर पड़ेगा जिसमें स्थिति और अधिक खराब होने की आशंका है।

Comments

Popular posts from this blog

डीएम जौनपुर ने चार उप जिलाधिकारियों का बदला कार्यक्षेत्र जानें किसे कहां मिली नयी तैनाती देखे सूची

पुलिस भर्ती परीक्षा पेपर लीक मामले में जौनपुर की अहम भूमिका एसटीएफ को मिली,जानें कहां से जुड़ा है कनेक्शन

जौनपुर में आधा दर्जन से अधिक थानाध्यक्षो का हुआ तबादला,एसपी ने बदला कार्य क्षेत्र