बेटियों को जन्म देने वाली माताओं को गुलाब का फूल देकर किया गया सम्मानित,बेटियों से न कर भेदभाव


 

जौनपुर। राष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर मिशन शक्ति की कार्यक्रम समन्यवक डा0 जान्हवी श्रीवास्तव के नेतृत्व में भारी संख्या में शिक्षिकाओ ने महिला जिला चिकित्सालय पहुंचकर बेटियों, को जन्म देने वाली माताओं को गुलाब का फूल भेट करके सम्मानित किया गया। इस अवसर पर सभी माताओं को संकल्प दिलाया गया कि बेटियों की अच्छी तरह परवरिश करेंगी तथा भविष्य में लिंग भेदभाव व शोषण नही होने देगीं। 
आज रविवार को वीर बहादुर सिंह पूर्वाचंल विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो0 निर्मला एस मौर्या की प्रेरणा से राष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर विश्वविद्यालय के मनोविज्ञान विभाग की असिस्टेंट प्रोफेसर व मिशन शक्ति की कार्यक्रम समन्यवक डा0 जान्हवी श्रीवास्तव के नेतृत्व में विश्वविद्यालय, महाविद्यालयो व प्राथमिक स्कूलों की भारी संख्या में शिक्षिकाओं ने जिला महिला चिकित्सालय पहुंचकर बेटियों को जन्म देने वाली माताओं को गुलाब का फूल देकर सम्मानित और सेनेटरी पैण्ड का वितरण किया। सभी शिक्षिकाओं ने माताओं से बेटियों की अच्छी तरह से लालन पालन करने का अनुरोध करते हुए कहा कि आगे चलकर इन बेटियां को अच्छी तरह से पढ़ाये तथा किसी तरह से भेदभाव न करें। 
इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि अपर जिलाधिकारी राम प्रकाश ने मिशन शक्ति के इस कार्य की सराहना करते हुए कहा कि बेटियों के उत्थान के लिए महिलाओं को ही आगे आना होगा तभी हमारे देश में बेटियां आगे बढ़ते हुए राष्ट्र के निर्माण में अपना अहम योग दान दे पायेगी। उन्होने आशा व्यक्ति किया कि आगे भी आप लोग इसी तरह से समाज में जनजागरूकता का कार्यक्रम करती रहेगीं। 
अंत में बेटियों के मान सम्मान की रक्षा के लिए हस्ताक्षर अभियान चलाया गया जिसमें जन्म देने वाली माताओ ने बढ़ चढ़कर हिस्सा ली। 
सभी अतिथियों का स्वागत व धन्यवाद महिला चिकित्सालय के डा0 संदीप सिंह ने किया। इस मौके पर मुख्य रूप से डॉ झांसी मिश्रा, डॉ पूनम श्रीवास्तव, प्रीति श्रीवास्तव, करुणा निराला, डॉ आकांक्षा, डॉ अंकिता, डॉ मधुलिका , चंचल, एवं डी पी ओ चंदन आदि ने प्रतिभाग किया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

प्रातः काल तड़तड़ाई गोलियां, बदमाशों ने अखिलेश यादव की कर दिया हत्या,ग्रामीण जनों में घटना को लेकर गुस्सा

आज से लगातार 08 दिनों तक बैंक रहेंगे बन्द जानें इस माह में कितने दिवस होगे काम काज

यूपी के गांव में जमीनी विवाद खत्म करने के सरकार ने बनायी यह योजना,नहीं होगी मुकदमें की नौबत