ताबड़तोड़ गोलियों की गड़गड़ाहट से दहला इलाका,अपराधियों में पुलिस का भय नहीं


जौनपुर। जनपद के थाना बदलापुर क्षेत्र में बढ़ती अपराधिक घटनाओ ने जहां आम जनता को भयभीत एवं दहशत के साये में जीवन जीने को मजबूर कर दिया है वहीं पर अपराधियों के हौसले बुलंद है और वह भय मुक्त हो कर ताबड़तोड़ अपराधिक घटनाओ को अंजाम देने में जरा भी कानून से भय नही खा रहें है। जी हां थाना क्षेत्र में दो दिन के अन्दर घटित दो हत्या की घटनाओ ने उक्त आरोप की पुष्टि करते है। लेकिन पुलिस की सेहत पर इसका कोई असर नहीं नजर आ रहा है।
यहां बतादे कि थाना बदलापुर क्षेत्र स्थित ग्राम छंगापुर में विगत 28 मई की रात में लगभग 10 बजे के आसपास 27 वर्षीय युवक मुकेश सिंह की संदिग्ध परिस्थितियों में गोली लगने से मौत हो गयी। पुलिस मुकदमा दर्ज कर इस हत्याकांड के कारण तक का पता नही लगा सकी थी कि दूसरे दिन रात्रि में तकरीबन 09 बजे के आसपास पूरामुकुन्द गांव में गांव के निवासी प्राइवेट चिकित्सक फौजदार प्रजापति की घर से महज 2 सौ मीटर पहले ही बदमाशो गोलियों से भून कर उनके शरीर को छलनी करते हुए मौत के घाट उतार दिया है।


घटनाओ की सूचना पर पुलिस मौके बारदात का निरीक्षण कर विधिक कार्यवाही भले ही करके अपने जिम्मेदारी की इतिश्री कर ले लेकिन ये घटनाये पुलिस और कानून के राज की दुहाई देने वालों से सवाल जरूर करती है। कि आखिर अपराधियों का साहस क्यों और कैसे पड़ रहा है कि हत्या जैसी जघन्यतम अपराध को कैसे अंजाम दे रहे है।जनपद में बढ़ते अपराधिक घटनाओ के बाबत पुलिस विभाग के शीर्ष अधिकारियों से बात करने कोई संतोष जनक जवाब नहीं मिला है। हां इतना कहते है अपराधी जल्द ही सलाखों के पीछे नजर आयेंगे। घटना के बाद पुलिस चाहे जितना कड़ा दन्ड दे लेकिन घटनाओ को अंजाम दे कर बदमाश पुलिस को चुनौती दे रहे है। पुलिस मुकदमा दर्ज कर लाशों का पोस्ट मार्टम कराती रह जायेगी। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

टीईटी साल्वर गिरोह का हुआ भन्डाफोड़, दो गिरफ्तार,एक जौनपुर दूसरा सोनभद्र का निकला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम

प्रेम प्रपंच में युवकों की जमकर पिटाई, प्रेमी की इलाज के दौरान मौत तो दूसरा साथी गंभीर