मिर्जापुर में कोरोना उपचार की व्यवस्था का निरीक्षण करने के बाद सीएम योगी ने जाने क्या दिया संदेश



उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में आज सुबह प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पहुंचे। उन्होंने सबसे पहले कोविड कंट्रोल रूम अस्पताल का निरीक्षण करके स्थिति को जाना। उसके बाद मंडलीय अस्पताल में ही ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण भी किया। नुआव गांव में भ्रमण के दौरान नव निर्वाचित ग्राम प्रधानों को संबोधित किया। जिसमे मेरा गांव कोरोना मुक्त गांव बनाने का संदेश देते हुए कहा कि कोरोना गांव में ही आकर परास्त हुआ है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों में निगरानी समिति अच्छे से कार्य कर रही हैं। अगर सर्दी जुकाम बुखार है तो लापरवाही ना बरतें अगर यह कोरोना हुआ तो परेशानी खड़ी कर सकता है। इसलिए सावधानी बरतें कोई दिक्कत होने पर अस्पताल में इलाज कराएं, निगरानी समिति को बताएं। इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऑक्सीजन प्लांट शुभारंभ करने के बाद मुख्यमंत्री मंडलीय अस्पताल के विभिन्न वार्डो का निरीक्षण भी किया। 
मिर्जापुर में ऑक्सीजन प्लांट का लोकार्पण करते सीएम योगी pic(social media) नुआव गांव का किया निरीक्षण नुआव गांव में निरीक्षण के दौरान उन्होंने वार्ड में भर्ती मरीजों से इलाज की जानकारी ली। एक विद्यालय में ग्रामीणों से संवाद करते हुए उन्होंने कहा कि सर्दी, जुखाम, खांसी, बुखार है तो दवा ले वह ठीक हो जाएगा। लेकिन कोविड का सही समय से जान लेना और सही दवा व सावधानी बरत कर कर उसे परास्त कर देना है। मिर्जापुर में यूपी सीएम ने नुआव गांव का किया निरीक्षण pic(social media) इस कार्य के लिए निगरानी समिति का गठन भी किया गया है। निगरानी समिति जागरुक है समय से मेडिसिन किट संबंधी सामग्री मरीज को मिल जाएगा। गांव में घर के अंदर रहे और कोरोना को गांव में घुसने से रोके साथ ही माॅक और सोशलडिस्टेंसिंग पर भी जोर दिया। 
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ प्रदेश में कोरोना महामारी को राकने के अथक प्रयासों में लगे हुए हैं। ऐसे में आजकल रोज जिलेवार निरीक्षण कर रहे हैं। और लोगों को महरमारी के प्रति सजग रहने की भी सलाह दे रहे हैं। प्रदेश के लगभग हर जिलों में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने की तैयारी चल रही है। इसी क्रम को देखते हुए आज वह मिर्जापुर जिले के दौरे पर हैं। 24 मई को उन्होंने वाराणसी और आजमगढ़ का दौरा किया था। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को मिर्जापुर पहुंचते ही उन्होंने कलेक्ट्रेट परिसर स्थित इंटीग्रेटेड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का निरीक्षण किया। साथ ही सीएम ने सूचनाओं के आदान-प्रदान के काम के बारे में जाना। कंट्रोल रूम किस प्रकार कार्य कर रहा हैै, किस तरह सूचनाएं प्रेषित होती हैं इसके बारे में अधिकारियों से जानकारी ली। बता दें कि उसके बाद सीएम मंडलीय अस्पताल के लिए निकल गए। सांसद अनुप्रिया पटेल, नगर विधायक रत्नाकर मिश्र, मड़िहान विधायक व राज्य मंत्री रमाशंकर सिंह पटेल, चुनार विधायक अनुराग सिंह, छानबे विधायक राहुल प्रकाश कोल आदि लोगों ने उनका स्वागत किया। उसके बाद उनका काफिला सीधे कलेक्ट्रेट परिसर स्थित कंट्रोल रूम पहुंच गया। मुख्यमंत्री ने कंट्रोल रूम का जायजा भी लिया।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

चाचा भतीजी में हुआ प्यार, फिर फरार, पकड़े जाने पर हुई दैहिक समीक्षा, अब शादी की तैयारी

58 हजार ग्राम प्रधानो को लेकर योगी सरकार ने लिया अब यह फैसला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम