स्वतंत्रता दिवस पर गैलेंटी मेडल के लिए गृह मंत्रालय द्वारा जारी सूची में एसपी जौनपुर अजय साहनी भी शामिल


केंद्रीय गृह मंत्रालय ने स्वतंत्रता दिवस पर पुलिस गैलेंट्री मेडल विजेताओं के नामों का किया ऐलान
उत्तरप्रदेश के एनकाउंटर स्पेशलिस्ट आईपीएस  अधिकारी अजय साहनी एसएसपी जौनपुर को मिला दोबारा राष्ट्रपति पदक


जौनपुर। जनपद के पुलिस अधीक्षक अजय साहनी को वीरता के लिए राष्ट्रपति द्वारा पदक दिये जाने के लिए चयन किया गया है। अजय साहनी को यह सम्मान मेरठ में एसएसपी के पद पर पोस्टिंग के दौरान कुख्यात बदमाश दिल्ली के मोस्ट वांटेड दो लाख के इनामी शिव शक्ति नायडू को मेरठ के कंकरखेड़ा में डेढ़ घंटे चली मुठभेड़ में 60 राउंड से ज्यादा फायरिंग के बाद एनकाउंटर में मार गिराया गया था तथा मुठभेड़ में बदमाश द्वारा चलाई गई गोली एसएसपी  अजय साहनी की बुलेटप्रूफ जैकेट पर लगी थी। नायडू मेरठ में हुई हत्या के मुकदमें में वांछित था। शिव शक्ति नायडू जो 50 करोड़ से ज्यादा की रकम लूट चुका था। नायडू दिल्ली में कई गैंगवार में भी शामिल था, सुपारी लेकर हत्या करने में नायडू का नाम सबसे ऊपर था। जिसकी तलाश में दिल्ली पुलिस लगी थी। नायडू नौ साल में गारमेंट व्यापारी से बन गया था दिल्ली का डान नायडू  सिपाही की हत्या कर सोशल मीडिया पर खुली चुनौती पुलिस को देता था। नायडू के खौफ का मेरठ में एसपी मेरठ अजय साहनी ने खात्मा किया। इसी क्रम में मेरठ में अन्य 17 बदमाशों को भी ढेर किया गया था।
इसी वर्ष जारी फेम इंडिया मैगजीन की ओर से देश के 50 सर्वश्रेष्ठ आईपीएस में यूपी से छह आईपीएस का नाम चुना गया था। इसमें आईपीएस अजय साहनी भी शामिल हैं। अजय साहनी की पहचान एनकाउंटर स्पेशलिस्ट के रूप में भी है। आईपीएस अजय साहनी ने कई खतरनाक एनकाउंटर को  अंजाम दिया है और मुठभेड़ में कुख्यात अपराधियों को पकड़ चुके हैं।
अजय साहनी 18 जून 21 को एसएसपी जौनपुर का कार्यभार ग्रहण किया । कार्यभार ग्रहण करने के उपरान्त जौनपुर पुलिस व बदमाशों के बीच दो महिने में एक दर्जन से अधिक मुठभेड़ हुई , जिसमें 02 बदमाश ढ़ेर किये गये व अन्य बदमाश पुलिस की गोली से घायल हुए ,जिन्हे गिरफ्तार किया गया। बीते 09 अगस्त 21 को जनपद जौनपुर के बक्शा थानान्तर्गत धनियामऊ बाजार में कैश वैन से लूट करने में असफल होने पर कैश वैन गार्ड रामअवध चतुर्वेदी को गोली मारकर हत्या करने की घटना में शामिल दो बदमाशों को 12 घंटे के अंदर मुठभेड़ के दौरान मार गिराया गया। जिसकी उ0प्र0 सरकार व आम जनमानस द्वारा प्रशंसा की गई। एसएसपी जौनपुर का रौद्र रुप बदमाशों के विरुद्ध निरन्तर जारी है, जिससे  जनपद जौनपुर के अन्दर अपराधियों में भय का महौल व्याप्त है। एसएसपी जौनपुर को मुख्यमंत्री द्वारा शौर्य पुरस्कार व पुलिस महानिदेशक लखनऊ, उ0प्र0 द्वारा गोल्ड, सिल्वर व प्लैटिनम मेडल दिया जा चुका है।

टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

टीईटी साल्वर गिरोह का हुआ भन्डाफोड़, दो गिरफ्तार,एक जौनपुर दूसरा सोनभद्र का निकला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम

प्रेम प्रपंच में युवकों की जमकर पिटाई, प्रेमी की इलाज के दौरान मौत तो दूसरा साथी गंभीर