ताजिया बनाने वालों के खिलाफ पुलिसिया कार्यवाही से मुसलमानो में गुस्सा,किया थाने का घेराव,स्थित तनाव पूर्ण लेकिन नियंत्रण में


जौनपुर। ताजिया बनाने पर पुलिस की कार्रवाई के खिलाफ शुक्रवार रात की देर शिया समुदाय के मुसलमानों ने शाहगंज कोतवाली का घेराव किया और नारेबाजी की। शिया समुदाय के लोगों का आरोप है कि पुलिसकर्मियों ने मोहल्ला भादी खास स्थित दो घर में रखा ताजिया क्षतिग्रस्त कर दिया। साथ ही ताजिया बनाने वाले परिवारों से अभद्र व्यवहार किया। हालांकि पुलिस-प्रशासन ने इससे इनकार किया है
पुलिसकर्मियों के खिलाफ आरोप लगाते हुए बड़ी संख्या में लोगों ने कोतवाली के सामने और परिसर में नारेबाजी करते हुए तुर्बत के लिए मातम शुरू कर दिया। उन्होंने दरोगा और अन्य सिपाहियों को निलंबित करने की मांग की। रात साढ़े 11 बजे एसडीएम और सीओ ने लोगों को समझाकर मामला शांत कराया। एसडीएम राजेश कुमार वर्मा ने बताया कि विरोध करने वालों से तहरीर मांगी गई है। उसके आधार पर जांच कराकर दोषी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।
इस बार मुहर्रम में ताजिया जुलूस प्रतिबंधित है। इसी क्रम में कोतवाली पुलिस ने ताजिया बनाने से मना किया था। आरोप है कि शुक्रवार की रात साढ़े नौ बजे कोतवाली के एक दरोगा हमराहियों के साथ मोहल्ला भादी खास पहुंचे। वहां ताजिया बनाने वाले सुब्बन खां के घर में रखे गए पांच-छह ताजिये को क्षतिग्रस्त कर दिया। इसके बाद पुलिस टीम इंतेजार खान के घर पहुंची और दुर्व्यवहार करते हुए ताजिया को एक कमरे में रखकर उसमें ताला बंद कर दिया व चाभी लेकर चले गए।
वहीं, पुलिस के जाने और घटना की जानकारी के बाद बड़ी संख्या में लोग कोतवाली पहुंच गए। कुछ ही देर में पश्चिमी कौडियां के सरैंया, नई आबादी से लेकर बड़ागांव के शिया समुदाय के लोग वहां पहुंच गए और पुलिस के खिलाफ नारे लगाने लगे। साथ ही तुर्बत की बेहुरमती (ताजिया के अपमान) पर समुदाय के लोगों ने काफी देर तक कोतवाली में नौहा और मातम भी किया। इस दौरान महिलाएं भी जुटने लगी और मामला बढ़ने लगा। बाद में एसडीएम राजेश वर्मा, क्षेत्राधिकारी अंकित कुमार ने कोतवाली पहुंचकर समुदाय के लोगों से बातचीत की और उन्हें समझा कर मामला शांत कराया।
इस संदर्भ में एएसपी डॉ.  संजय कुमार ने बताया कि पीस कमेटी की बैठक में ताजिया न बनाने की अपील की गई थी। लेकिन कुछ लोग ताजिया बना रहे थे। पुलिस उन्हें मना करने गई थी। लोगों ने गलत आरोप लगाते हुए थाने का घेराव किया। इस घटना को लेकर जनपद में मुस्लिम समुदाय को लोंगो में नराजगी नजर आ रही है। हलांकि मुसलमान कुछ भले ही नहीं बोल रहा है लेकिन अन्दर खाने में तनाव पूर्ण स्थिति उत्पन्न हो गयी है। पुलिस प्रशासन भी तनाव की संभावनाओ के दृष्टिगत सतर्क हो गयी है। हर एक संवेदनशील स्थानो पर पुलिस का पहरा लगा दिया गया है। 

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

टीईटी साल्वर गिरोह का हुआ भन्डाफोड़, दो गिरफ्तार,एक जौनपुर दूसरा सोनभद्र का निकला

जौनपुर में तैनात दुष्कर्म के आरोपी पुलिस इन्सपेक्टर की सेवा हुई समाप्त, जानें क्या है घटना क्रम

प्रेम प्रपंच में युवकों की जमकर पिटाई, प्रेमी की इलाज के दौरान मौत तो दूसरा साथी गंभीर