शादी का झांसा देकर यवक ने किशोरी से बनाया शारीरिक संबंध,किशोरी हुई गर्भवती तो किया शादी से इनकार,मामला अब पुलिस के पास


प्रदेश के गोरखपुर जिले के चौरीचौरी में दुष्कर्म और पुलिस की निष्क्रियता का ऐसा मामला आया, जिसने एक बार फिर सुप्रीम कोर्ट की बात को सच साबित कर दिया है। किशोर ने झांसा देकर 13 साल की किशोरी से दुष्कर्म किया। किशोरी ने बीते दिनों पेट में दर्द की शिकायत की तो परिवार वाले अस्पताल ले गए। चिकित्सक ने परिवार वालों को किशोरी के पेट में पांच माह के गर्भ की बात बताई तो उनके होश उड़ गए। अब मामले को लेकर परतें खुल रहीं हैं, गांव के तथाकथित पंच से लेकर पुलिस की अनदेखी की कलई खुल रही है। 
चौरीचौरी थाना क्षेत्र के एक गांव का लड़का पड़ोस की एक लड़की से शादी का झांसा देकर देह संबंध बना लिया। बीते दिनों लड़की ने परिवार वालों को पेट दर्द की शिकायत की। परिवार वाले स्वास्थ्य केन्द्र पर ले गए तो पता चला कि किशोरी को 5 माह का गर्भ है। परिवार वाले किशोर के घर इसकी शिकायत लेकर गए तो दंबग परिवार वाले उल्टे मारपीट करने लगे। परिवार के लोगों ने चौरीचौरी थाना क्षेत्र के सोनबरसा चौकी पर शिकायत लेकर गए तो पुलिस वाले समझौता कराने में जुट गए। 
पुलिस की निष्क्रियता के बाद प्रकरण को लेकर गांव में पंचायत बैठी। जिसमें निर्णय दबंग के पक्ष में सुनाया गया। पीड़ित परिवार से कहा गया कि दुष्कर्म का मामला है। लोकलाज के भय से चुप रहना बेहतर है। पंचायत खत्म होने के बाद दंबग परिवार धमकी देने लगे। बोले, आगे कहीं शिकायत की तो जान से मार डालेंगे। पीड़ित परिवार वालों ने इसी बीच लड़की को आरोपी किशोर के घर पहुंचा दिया। वह किशोर के परिवार पर शादी का दबाव बना रहे थे। मामला नहीं बना तो वे शिकायत लेकर चौरीचौरा थाना पहुंचे। जहां मुकदमा दर्ज कर किशोरी का मेडिकल जांच कराया गया। पुलिस ने किशोर, उसके माता-पिता समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर सभी को जेल भेज दिया है। यहां भी पुलिस ने चूक की। पहले किशोर को बालिग बताकर मुकदमा दर्ज किया, अब किशोर की बात आने पर धाराएं बदली जा रही है। 


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

हर रात एक छात्रा को बंगले पर भेजो'SDM पर महिला हॉस्टल की अधीक्षीका ने लगाया 'गंदी डिमांड का आरोप; अधिकारी ने दी सफाई

यूपी कैबिनेट की बैठक में जौनपुर की इस नगर पालिका के विस्तार का प्रस्ताव स्वीकृत

जफराबाद विधायक का खतरे से बाहर डाॅ गणेश सेठ का सफल प्रयास, लगा पेस मेकर