खाने का पैसा मांगा तो बेखौफ बदमाशो ने झोंकी फायर दो घायल,पुलिस मुकदमा दर्ज कर छानबीन में जुटी


प्रदेश में अपराधियों के हौसले इतने बुलंद है कि थाना जहां सुरक्षा के लिए असलहो से लैस पुलिस हर समय पहरा देती है उसके पास चन्द कदम पर अपराध कारित कर फरार हो जा रहे है बाद में पुलिस केवल विधिक कार्यवाई कर अपनी जिम्मेदारी पूरी करती है। 
घटना जनपद आजमगढ़ के थान अहरौला स्थित एक ढाबे की है रात में कार सवार चार युवकों ने भोजन किया। भोजन करने के बाद बिना पैसा दिए ही चारों युवक कार में सवार हो गए। यह देख ढाबा संचालक पैसा मांगने उनके पास पहुंचा तो युवकों ने ढाबा संचालक पर फायरिंग की, इसके बाद फरार हो गए।
पुलिस के अनुसार, अहरौला थाना के हांसापुर गांव निवासी कृष्णा यादव पुत्र राजेंद्र यादव अहरौला थाने से महज 100 मीटर की दूरी पर ढाबा संचालित करता है। बीती रात साढ़े नौ बजे कार सवार चार युवक ढाबे पर खाना खाने पहुंचे। खाना खाने के बाद बिना पैसा दिए ही चारों युवक कार पर सवार हो गए।
इस दौरान संचालक कृष्णा ने कार के पास पहुंचकर पैसे मांगे। इस बात पर युवक भड़क उठे और कार से निकल कर ढाबे पर तोड़फोड़ करने लगे। विरोध करने पर ढाबा संचालक को लक्ष्य कर फायर कर दिया और फिर ढाबा बंद कराने की धमकी देते हुए कार पर सवार हो कर फरार हो गए।
इस घटना में ढाबा संचालक के पिता राजेंद्र यादव(55) व काम करने वाला मिश्री लाल(45) घायल हो गए। घटना के बाबत ढाबा संचालक ने थाने में तहरीर दी है। पुलिस जांच पड़ताल में जुटी है। बूढ़नपुर सीओ गोपाल स्वरूप वाजपेयी के अनुसार घटना की सूचना मिली है, अहरौला पुलिस जांच की कवायद में जुटी है। युवकों की गाड़ी के नंबर के आधार पर उनका पता लगाया जा रहा है। जल्द ही आरोपियों को पकड़ लिया जाएगा।

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

मुम्बई से आकर बदलापुर थाने में बैठी प्रेमिका, पुलिस को प्रेमी से मिलाने की दी तहरीर, पुलिस पर सहयोग न करने का आरोप

आइए जानते है कहां पर बारिश के दौरान आकाश से गिरी मछलियां, ग्रामीण रहे भौचक

पूर्वांचल की राजनीति का एक किला आज और ढहा, सुखदेव राजभर का हुआ निधन